Fast Samacharसही आहार सही आदतें व सही जल एवं स्वच्छता व्यवहार को बढ़ावा...

सही आहार सही आदतें व सही जल एवं स्वच्छता व्यवहार को बढ़ावा देकर ही कुपोषण से मुक्ति पाई जायी जा सकती है : अतुल त्रिवेदी / Shivpuri News

राष्ट्रीय पोषण माह के तहत आदिवासी वस्ती बड़ौदी मे पोषण की घण्टी कुपोषण से छुटटी कार्यक्रम आयोजित

सम्पूर्ण आहार उत्तम स्वास्थ का आधार कहा सुश्री निवेदिता मिश्रा पर्यवेक्षक आईसीडीएस शिवपुरी शहरी

शिवपुरी। कुपोषण मुक्त भारत के दृष्टिकोण को सामने रखते हुए की ओर से एक से 30 सितंबर तक चौथा राष्ट्रीय पोषण माह मनाया जाएगा। इस अभियान के तहत सामुदायिक भागीदारी पर विशेष फोकस रखा जाएगा क स्वयं सेवी संस्था शक्तिशाली महिला संगठन शिवपुरी एवं बिट्रानिया न्यट्रीशन फाउण्डेशन तथा महिला बाल विकास विभाग मिलकर सयुंक्त रुप से पेाषण माह के तहत पोषण की घण्टी कुपोषण से छुट्टी नवाचार किया जा रहा है जिसकें तहत आज आदिवासी वस्ती बड़ौदी में पोषण माह कार्यक्रम आयोजित किया।

 

कार्यक्रम संयोेजक रवि गोयल ने बताया कि राष्ट्रीय पोषण माह 2021 के तहत चार अलग.अलग थीम रहेंगी। उन्होंने बताया कि आहार में विविधता और पौष्टिकता को बढ़ाने के लिए बाजरा, दालें,बारहमासी और मौसमी स्थानीय सब्जियों, फलों आदि के उपयोग करने के बारे में नागरिकों को जागरूक किया जाएगा। उन्होने बताया कि इन गतिविधियों को उत्साहपूर्वक आयोजित करने और राष्ट्रीय पोषण में बड़ी सामुदायिक भागीदारी को प्रोत्साहित करने के लिए शक्तिशाली महिला संगठन , बीएनएफ तथा महिला एवं बाल विकास के साथ.साथ अन्य विभाग भी इस कार्यक्रम के सहयोगी रहेंगे। सही आहार सही आदतें व सही जल एवं स्वच्छता व्यवहार को बढ़ावा देकर ही कुपोषण से मुक्ति पाई जायी जा सकती है। शौचालय का हरेक अवसर पर उपयोग, स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता, बच्चों के मल का उचित निपटान ग्राम में ठोस एवं तरल अपशिष्ठ प्रबंधन एवं हाथों की स्वच्छता कुपोषण से भी बचाव करता है ।

 

अगर सुमन.के विधि से हाथों की सफाई की जाए और बच्चों के साथ.साथ किशोर.किशोरियों में इस आदत का विकास किया जाए तो कुपोषण रोकने में मदद मिलेगी यह कहना था कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अतुल त्रिवेदी जो कि स्वच्छ भारत मिशन के संभागीय समन्वयक है। पर्यवेक्षक सुश्री निवेदिता मिश्रा ने पोषण माह के शुभारंभ के अवसर पर कहा कि सम्पूर्ण आहार उत्तम स्वास्थ का आधार है क्योकि अगर कुपोषित बच्चे एवं गर्भवती माता को सही पोषण एवं आहार मिले तो वह खुद तो पोषित होगी तो कि उत्तम स्वास्थ्य का आधाार है।

 

उन्होने आज बीएनएफ द्वारा जो पोषण की घण्टी कार्यक्रम वड़ौदी में किया वह काफी रोचक तथा तथा समुदाय ने इस पोषण की घण्टी को काफी सराहा खासतौर से सुपोषण सखी एवं न्यूट्रीशन चैम्पियन ने कुपोषित बच्चे के घर , गर्भवती माता के घर एवं किशोरी बालिकाओ के घर घर जाकर पोषण की घण्टी बजायी एवं समुदाय को जागरुक किया उन्होने पोषण माह के तहत रैली भी निकाली । इस अवसर पर पोषण एवं बीज की प्रदर्शनी भी लगायी जिससे कि समुदाय को पोषण के बारे में जागरुक किया साथा ही 100 फलदार पौधे गर्भवती माताओं एवं कुपेाषित बच्चों एवं किशोरी बािलकाओं के घर लगवाए जिसमें अमरुद, सीताफल, एवं सहजन के फलदार पौधे थे। कार्यक्रम को सफल बनाने में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता पिंकी लोधी , रजनी सेन, सुपोषण सखी कमला जाटव, ज्योति जाटव, विमला जाटव, सहायिका रानी जाटव, सरवती जाटव, न्यूट्रीशन चैम्पियन मुस्कान, विनीता, निशा यादव, दानवती, रुबी, सोनम, शिमला ओझा, बैष्णवी के साथ शक्तिशाी महिला संगठन की पूरी टीम ने सक्रिय सहयोग प्रदान किया।

सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
17FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular