Fast Samacharग्वालियर: निगम के अमले ने आज चिरवाई नाका क्षेत्र में बसाई जा...

ग्वालियर: निगम के अमले ने आज चिरवाई नाका क्षेत्र में बसाई जा रही अवैध कॉलोनियों पर की कार्रवाई / Gwalior News

ग्वालियर। 21.03.2021 / नगर निगम ग्वालियर की सीमांतर्गत बनने वाली अवैध काॅलोनियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत निगम के अमले द्वारा आज चिरवाई नाके पर ग्वालियर विकास प्राधिकरण की नोटिफाइड भूमि पर बसाई जा रहीं 6 अवैध काॅलोनी को तोडने की कार्यवाही की गई।
 
सिटी प्लानर श्री पवन सिंघल एवं भवन अधिकारी श्री अमित गुप्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि अवैध कॉलोनी वाला क्षेत्र ग्वालियर विकास प्राधिकरण(जीडीए) की महादजी नगर योजना में नोटिफाइड है। इस क्षेत्र में बगैर जीडीए की अनुमति के कॉलोनी नहीं बसाई जा सकती। लेकिन वहां माफियाओं ने न तो जीडीए और न ही नगर निगम से अनुमति ली। नगर निगम द्वारा आज भी इस क्षेत्र में विभिन्न सर्वे क्रमांकों पर कॉलोनी काट रहे श्री धर्मेन्द्र, जितेन्द्र सिंह पुत्र मोहर सिंह यादव, वीरेन्द्र पुत्र रमेश चन्द्र वैश्य, श्री प्रीतम सिंह, गजराज सिंह, श्री मनोज जैन पुत्र सोहनलाल जैन, अध्यक्ष मनोदीप हायर एजुकेशन सोसायटी, श्री आनंद अग्रवाल पुत्र रामबाबू अग्रवाल, निवासी सिंधी कॉलोनी, मैसर्स संस्कृत बिल्डर्स एवं कॉलोनाइजर्स गिरीश शर्मा पुत्र ओमप्रकाश शर्मा एवं लोकमान्य गृह निर्माण समिति एवं सुदर्शन रियल एस्टेट, आनंद शुक्ला एवं हरवंशलाल गुप्ता के खिलाफ कार्रवाई करते हुए कॉलोनियों के लिए बनाई गई सड़क व बाउंड्री वॉल को तोड़ने की कार्यवाही की गई तथा सभी को नोटिस जारी किए गए ।
इसके साथ ही मुरार क्षेत्र में भी कार्रवाई करते हुए निगम अमले ने
ग्राम मुरार में अवैध कॉलोनियों पर कार्यवाही,ग्राम मुरार के सर्वे क्रमांक 484 मिन 1 रकवा 0.387, 485 रकवा 1.369, 486मिन 1 रकवा 0.784 अभिलेख में रमेश प्रताप सिंह भदौरिया पुत्र जगेंद्र सिंह भदौरिया का नाम है अभिलेख में दर्ज। एसडीएम श्रीमती पुष्पा पुषाम मौके पर मौजूद रहीं। निगम अमले द्वारा अवैध कॉलोनी में बनाए जा रहे निर्माण कार्य को तोड़ने की कार्रवाई की गई।
कार्यवाही के दौरान अपर आयुक्त श्री राजेश श्रीवास्तव, सिटी प्लानर श्री पवन सिंघल, सहायक सिटी प्लानर श्री सतेन्द्र सिंह यादव, भवन अधिकारी श्री बृज किशोर त्यागी, श्री अमित गुप्ता, श्री वीरेंद्र शाक्य, श्री पवन शर्मा सहित मदाखलत अमला उपस्थित रहा।
सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
15FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular