Shivpuriअस्पताल के बाबू की असंवेदनशीलता, युवक का शव भिजवाने मांगा डीजल /...

अस्पताल के बाबू की असंवेदनशीलता, युवक का शव भिजवाने मांगा डीजल / Shivpuri News

शिवपुरी। जिला अस्पताल में कभी डॉक्टर तो कभी नर्स की असंवेदनशीलता के किस्से रोज सामने आते रहते हैं। वहीं अब बाबू की असंवेदनशीलता का माला सामने आया है। एक आदिवासी युवक का शव भिजवाने के लिए बाबू ने डीजल की मांग रख दी। लेकिन मृतक के परिजनों ने कांग्रेस के पिछोर विधायक को फोन लगा दिया। विधाायक ने अपनी तरफ से डीजल डलवाने की बात कही तो बाबू को गलती का अहसास हुआ और शव ले जाने के लिए गाड़ी भिजवा दी। दरअसल सड़क हादसे में घायल आदिवासी युवक हरनारायण पुत्र प्रकाश आदिवासी निवासी बरबटपुरा तहसील खनियाधाना ने अस्पताल की चौखट पर दम तोड़ दिया था। रिकार्ड में दर्ज नहीं हो पाने की वजह से बाबू मोहन ने शव घर भिजवाने के लिए गाड़ी देने से इंकार कर दिया। यहां बता दें कि हरनारायण अपनी तीन साथी काशीराम, ओमकार आदिवासी के साथ भंडारे में जा रहे थे तभी मंगलवार की शाम अचरौनी पेट्रोल पंप के पास लोडिंग पिकअप ने बाइक में टक्कर मार दी थी। हादसे में हरनारायण की मौत हो गई।

सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
17FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular