Badarwasडिबिया बैंको पर लूट आधार कार्ड के जरिए अंगूठा लगवा कर बैलेंस...

डिबिया बैंको पर लूट आधार कार्ड के जरिए अंगूठा लगवा कर बैलेंस चैक करवाने पर साफ हो जाता है खाता / Badarwas News

एसपी से शिकायत करने बाद भी आज तक नही हुई कार्रवाई

बदरवास।। राष्ट्रीयकृत बैंकों ने ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को सुविधाएं देने के हिसाब से ग्रामीण अंचलों में कियोस्क सेंटर खुलवा दिए हैं। लेकिन अधिकांश कियोस्क संचालक ग्रामीण क्षेत्रों में सेंटर न चलाते हुए बदरवास नगर से संचालित कर रहे हैं और उपभोक्ताओं के रुपये तक हेराफेरी और गुमराह कर निकाल रहे हैं। आधार कार्ड से रुपये निकालने के मामले बदरवास क्षेत्र में बीते माह निकल कर सामने आए थे। अधिकांश कियोस्क संचालकों ने तो बैंकों से लोन तक गरीब उपभोक्ताओं के नाम से निकाल लिए हैं।

उपभोक्ता पढ़े-लिखे न होने के चलते समझ नहीं पाते, परंतु जब खाता चेक करवाते हैं, तो उन्हें पता चलता है कि हमारे साथ धोखाधड़ी की है। बदरवास सहित ग्रामीण अंचलों में संचालित हो रही शाखाओं में जमकर संचालकों द्वारा फर्जीवाड़ा किया जा रहा है। रार्ष्ट्रीयकृत बैंकों की शाखाएं यहां पर संचालित है। इसके बावजूद भी बैंक के आला अधिकारियों द्वारा संचालकों पर आखिर कार्रवाई क्यों नहीं की जाती।

 

बता दें कि इन कियोस्क संचालकों द्वारा बड़े पैमाने पर धांधली और गरीब उपभोक्ताओं के रुपये तक निकाल लेते हैं। यदि वरिष्ठ अधिकारी आकर निरीक्षण करें तो इनके सेंटरा पर ताला लग सकता है। ग्रामीण क्षेत्र के सेंटर बदरवास से संचालित हो रहे हैं। जो बदरवास क्षेत्र की तिलातिली, झूलना, धामनटूक, देहरदा सड़क, बारईखेड़ा सहित अनेक गांव केसेंटर चल रहे हैं। यह भी बड़ा सवाल है कि किस अधिकारी के आदेश पर ग्रामीण अंचल के सेंटरों को बदरवास से संचालित किया जा रहा है।

दो साल बीत जाने के बाद भी नही हुई सुनवाई

बदरवास तहसील के अन्तर्गत आने वाला गांव ऐजवारा का रहने वाला चन्द्रभान सिंह पुत्र लटूरा यादव ने अपने बचत खाता नंबर 33619316157 में अपने चने की उपज के रुपये 6.35 लाख रुपये जमा किए थे। कुछ दिनों बाद चन्द्रभान सिंह को रुपयों कि जरुरत पड़ी तो पांच लाख रुपये दिनांक 6/8/2019 को बदरवास शाखा से निकाले।

दूसरे दिन चंद्रभान सिंह अपनी बैंक किताब पर लेन देन का ब्यौरा करवाया तो उसमें दिनांक 5/8/2019को 16 हजार तथा दिनांक 6/8/2019 को 20 हजार रुपये बगैर खाता धारक की जानकारी के निकाल लिए गए थे। इसकी जानकारी बदरवास एसबीआइ बैंक शाखा से कहा तो उसने आनाकानी कि तो खाता धारक ने पुलिस अधीक्षक शिवपुरी को लिखित आवेदन दिनांक 7/8/2019 को दिया गया, परन्तु आज दिनांक तक खाताधारक को किसी भी प्रकार का न्याय नहीं मिला है।

इनका कहना है।

मैने एसपी साहब एवं बदरवास थाने में आवेदन दिया था, लेकिन आज तक कोई सुनवाई नही हुई। मेरी फसल के रुपये थे और बैंक में जाता हूं तो बैंक अधिकारी धक्के मार कर भगा देते हैं।

चन्द्रभान सिंह यादव, खाताधारक

सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
17FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular