Shivpuriश्रीमंत की थीम रोड का भविष्य अंधकार में, बनने से पहले जगह-जगह...

श्रीमंत की थीम रोड का भविष्य अंधकार में, बनने से पहले जगह-जगह उखड़ी, एडवोकेट विजय तिवारी ने लिखा महानिदेशक को पत्र / Shivpuri News

शिवपुरी। श्रीमंत यशोधरा राजे सिंधिया की थीम रोड का भविष्य अंधकार में दिखाई दे रहा है। यहां एक ओर निर्माणाधीन थीम रोड का कार्य पूर्ण होने को है लेकिन कार्य पूर्ण होने से पहले वह जगह-जगह से उखड़ने लगी है, कई जगह से तो सड़क गायब हो चुकी है। मामले को लेकर एडवोकेट विजय तिवारी ने महानिदेशक को पत्र लिखकर समस्या से अवगत कराया है।

एडवोकेट तिवारी ने पत्र के माध्यम से बताया कि शहर में कुल 13.5 किलोमीटर की थीम रोड निर्माणाधीन है जिसका ठेका जैन एण्ड कंपनी द्वारा लिया गया है। उक्त थीम रोड बटालियन चौराहे से बड़ौदी के आगे फोरलेन पर जाकर मिलेगी। उक्त सड़क का निर्माण कार्य पूर्ण होने से शहर की सुंदरता में चार-चांद लग जाएंगे तथा शिवपुरी की तुलना पेरिस शहर से होने लगेगी। इस प्रकार की बातें उक्त थीम रोड के निर्माण के दौरान कही जा रही है। उक्त थीम रोड का निर्माण कार्य नोयडा की मेसर्स आरके इंफ्रा कंपनी द्वारा किया जा रहा है। स्थानीय विधायक एवं मध्यप्रदेश शसन की केबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया की व्यक्तिगत रूचि के कारण उक्त प्रोजेक्ट को धन की कमी आड़े नहीं आने दी जा रही है। इस रोड के निर्माण में लगभग 64 करोड़ की भारीभरकम राशि खर्च की जा रही हे लेकिन निर्माण कार्य भी पूरा नहीं हुआ है और सड़क स्थान-स्थान से धसक रही है, टूट रही है जिस कारण थीम रोड का भविष्य अंधकार में दिख रहा है।

यह है थीम रोड की िस्थति

पुजारी होटल के सामने निर्माणाधीन पुल का एक हिस्सा माह अगस्त में आई बारिश के चलते बह गया जिससे निर्माण कार्य की गुणवत्ता की पोल खुल गई।

– इसी प्रकार मेडीकल कॉलेज के सामने एक बड़े हिस्से की सड़क टूटकर बह गई।

-कंषाना फार्म के सामने एवं महिन्द्रा ट्रेक्टर एजेंसी के सामने कई स्थानों पर नवनिर्मित सड़क का नामोनिशान भ नहीं बचा है।

– झांसी तिराहा क्षेत्र में तथा गुना नाका तरफ भी कई स्थानों पर उक्त सड़क निर्माण के पूर्व ही खत्म हो चुकी है।

– निर्माणाधीन सड़क के मध्य पौधों की सुरक्षा के लिए लोहे की जालियां लगाई जा रही है वह भी निर्धारित मापदंड की न होकर हल्की है जिस कारण लोहे की जालियों में निर्माण एजेंसी द्वारा लाखों रुपए की शासन को चपत लगाई जा रही है।

-पेबर्स टाईल्स भी घटिया स्तर की लगाई जा रही है जो लगने के साथ ही उखडने लगी है। पेबर्स टाइल्स का लैब टेस्ट नहीं काया गया है।

नाकामी छिपाने पीडब्ल्यूडी के जिम्मेदार लगा रहे पीएचई विभाग पर आरोप

निर्माणाधीन सड़क के टूटने धसकने के संबंध में पीडब्ल्यूडी के जिम्मेदार अधिकारी पीएचई विभाग को सड़क धसकने का जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों का कहना है कि सीवर लाइन की खुदाई के बाद पीएचई विभाग द्वारा समुचित काम्पेक्शन न करने के कारण निर्माणाधीन सड़क धंस रही है। किंतु जिन स्थानों पर सीवर की खुदाई नहीं हुई वहां भी सड़क धसक रही है इसका अर्थ यह है कि पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों द्वारा सड़क निर्माण में समुचित सुपरविजन नहीं किया जा रहा है। ठेकेदार एवं पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों द्वारा करोड़ों रुपए की निर्माणाधीन सड़क में गुणवत्ता का कार्य नहीं कराया जा रहा है। ठेकेदार अधिकारियों के साथ मिलकर शासन को करोड़ों रुपए का चुना लगा रहा है। अत: थीम रोड की गुणवत्ता की जांच कर फर्म जैन इंफा्र व पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों पर कार्रवाई कर प्रकरण दर्ज करें।

सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
17FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular