Fast Samacharपुत्री रात 8:16 बजे पिता से मिलकर आई, सुबह मिलने पहुंचे तो...

पुत्री रात 8:16 बजे पिता से मिलकर आई, सुबह मिलने पहुंचे तो दे दिया डेथ सर्टिफिकेट / Shivpuri News

सर्टिफिकेट में मृत्यु का समय रात 8:05 मिनट बताया


 

शिवपुरी। मेडीकल कॉलेज में भर्ती एक 61 वर्षीय वृद्ध प्रसादीलाल पुत्र मुलाराम शाक्य की बीती रात मौत हो गई। जिस पर मृतिका की पुत्री प्रगति शाक्य ने कॉलेज प्रबंधन पर लापरवाही का गंभीर आरोप लगाया है। युवती का कहना है कि रात 8:16 बजे वह अपने पिता से मिली थी, लेकिन आज सुबह मेडीकल प्रबंधन ने उसकी पिता की मौत की जानकारी दी और उसे एक डेथ सर्टिफिकेट थमा दिया जिसमें मौत का समय रात 8:05 मिनट बताया गया। इस बात पर युवती ने मेडीकल कॉलेज में हंगामा कर दिया। इसके बाद मेडीकल कॉलेज प्रबंधन बचाव की मुद्रा में आ गया। मेडीकल कॉलेज के डीन अक्षय निगम इस पूरे मामले को लेकर अनभिज्ञता जाहिर कर रहे हैं और मामले की जानकारी लेने की बात कह रहे हैं।

मेडीकल कॉलेज की िद्वतीय वर्ष की छात्रा प्रगति शाक्य ने जानकारी देते हुए बताया कि उसके पिता को एक दिन पहले सेचुरेशन कम होने के कारण मेडीकल कॉलेज लाया गया था। जहां उनकी कोरोना की जांच नहीं हुई थी, लेकिन सेचुरेशन कम होने के कारण उन्हें आईसीयू में भर्ती कर लिया गया। कल शाम 8:30 बजे वह अपने पिता से मिलने पहुंची और उनका हालचाल जाना। इस दौरान उसने पिता के स्वस्थ होने का वीडियो यह सोचकर बनाया था कि वह परिवार के सदस्यों को बताएगी कि उन्हें कोई परेशानी नहीं है, लेकिन आज सुबह जब वह मेडीकल कॉलेज पहुंची तो उसके पिता बेड पर नहीं थे। जब उसने कर्मचारियों से पूछा तो उन्हें बताया गया कि उसके पिता अब इस दुनिया में नहीं रहे और उनका शव डेड हाऊस में रखा हुआ है। पिता की अचानक मौत की खबर सुनकर पुत्री सन्न रह गई और उसने मेडीकल प्रबंधन पर आरोप लगाया कि पिता के स्वस्थ होने के बाद अचानक से उनकी मौत हो जाना मेडीकल प्रबंधन की गंभीर लापरवाही है। डॉक्टरों ने उन्हें देखा तक नहीं और उनकी मृत्यु की सूचना तक परिवार के किसी सदस्य को नहीं दी गई। इससे प्रतीत होता है कि मेडीकल प्रबंधन की लापरवाही उसके पिता की मौत का कारण बनी है और इसी लापरवाही को छिपाने के लिए मेडीकल प्रबंधन कुछ भी जानकारी देने से कतरा रहा है। युवती का यह भी आरोप था कि मेडीकल प्रबंधन ने उनकी मृत्यु का समय ही बदल दिया। पिता 8:30 बजे तक ठीक थे और अच्छे से बातचीत कर रहे थे जिसका वीडियो उसके पास है, लेकिन रात में ऐसा क्या हो गया कि उसके पिता की मौत हो गई। मेडीकल प्रबंधन ने पिता की मौत की सूचनातक उन्हें नहं दी और आज सुबह उनका डेथ सर्टिफिकेट उन्हें दे दिया। डेथ सर्टिफिकेट में उनकी पिता की मौत का समय रात 8:05 मिनट बताया गया है जबकि 8:16 बजे उसके पिता जीवित थे और उससे बातचीत कर रहे थे।

इनका कहना है

मेडीकल कॉलेज में कोई भी ऐसी मौत नहीं हुई है। अगर ऐसा हुआ है तो उसकी जानकारी लेकर ही कुछ कह सकेंगे।

अक्षय निगम, डीन मेडीकल कॉलेज शिवपुरी।

सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
15FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular