Shivpuriजिन विद्यार्थियों ने अपनी मेहनत से महाविद्यालय स्तर पर सर्वोच्च अंक हासिल...

जिन विद्यार्थियों ने अपनी मेहनत से महाविद्यालय स्तर पर सर्वोच्च अंक हासिल किए उन्हें स्थापना दिवस पर किया सम्मानित / Shivpuri News

अभाविप के स्थापना दिवस पर किया मेधावी छात्र सम्मान कार्येकर्म का आयोजन जिसमे जिले के 35 छात्रों का किया सम्मान

शिवपुरी। आज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद शिवपुरी द्वारा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के क्षेत्र में स्थापना दिवस एवं राष्ट्रीय विद्यार्थी दिवस के उपलक्ष में पीजी कॉलेज में मेधावी छात्र छात्राएं का सम्मान किया गया जिसमें नगर मंत्री विवेक धाकड़ ने बताया कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद आज 73 वर्ष पूरे कर लिए हैं चुनौतियों का सामना करते हुए विद्यार्थी परिषद आज विश्व का सबसे बड़ा छात्र संगठन बन पाया है इस उपलक्ष में विद्यार्थी दिवस के शुभ अवसर पर इकाई शिवपुरी द्वारा और मेधावी छात्र छात्राओं का सम्मान किया गया जिसके वो हकदार हैं जिसमें सर्वप्रथम मां सरस्वती एवं युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत स्वामी विवेकानंद जी के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम प्रारंभ किया गया तत्पश्चात अतिथियों का स्वागत किया गया सर्वप्रथम परिषद वक्ता के रूप में जिला संयोजक मयंक राठौर ने अपने भाषण में कहा कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद महज एक छात्र संगठन ने नहीं बल्कि एक विश्व का सबसे बड़ा सामाजिक संगठन है जिस तरीके से गंगोत्री से गंगा निकलती है और चारों दिशाओं में पड़ जाती है उसी प्रकार विद्यार्थी परिषद वह विश्वविद्यालय यहां से कार्यकर्ता निकलकर अपनी प्रतिभा के अनुसार विभिन्न क्षेत्रों में जाता है और सर्वोच्च स्थान प्राप्त करता है देश की आजादी से लेकर आज तक विद्यार्थी परिषद में कई जन आंदोलन खड़े किए हैं जो राष्ट्र हित में आवश्यक थी जब 1990 में जम्मू कश्मीर के लाल चौक पर झंडे का अपमान किया जाता है तो विद्यार्थी परिषद का छात्र वहां जाकर कहता है यहां हुआ तन्वी का अपमान नहीं करेंगे तिरंगे का सम्मान और नारा दिया एटम बम एटम बम एबीवीपी एटम बम एक कार्यकर्ता अपने आप में एक जो देश के ऊपर आंख उठाकर देखने वालों कोपल में उड़ा सकता है आगे विशिष्ट अतिथि नवनीत सेन ने कहा कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद अपने स्थापना काल से ही संघर्ष करता है और विद्यार्थी परिषद एकमात्र गैर राजनीतिक संगठन जो दलगत राजनीति से ऊपर उठकर कार्य करता है और सामाजिक क्षेत्र में अपनी अग्रणी भूमिका निभाता है आगे मुख्य वक्ता विभाग संयोजक प्रकृति शर्मा ने बताया कि स्वामी विवेकानंद जी सदैव हमारे आदर्श रहे हैं स्वामी विवेकानंद जी हमें सिखाते हैं कि किस प्रकार से हमें अपना संघर्ष और सामाजिक भूमिका तय करनी है हमें अपने अधिकार के लिए सदैव संघर्ष बान रहना चाहिए आज हमें पढ़ाया जाता है की अकबर महान था अकबर द ग्रेट क्या कभी हमें नहीं लगता हमारे पूर्वज शिवाजी रानी लक्ष्मीबाई महाराणा प्रताप का इतिहास मुख्य रूप से पढ़ाना चाहिए इसके बाद सभी छात्र छात्राओं का प्रशस्ति पत्र मेडल और स्वामी विवेकानंद जी के जीवन परिचय की पुस्तक पुरस्कार स्वरूप सभी छात्रों को दी गई जिसमें नगर उपाध्यक्ष कौशल यादव एवं एकता शर्मा जी रहे इस कार्यक्रम में मंच संचालन विवेक धाकड़ भानु समाधिया संदीप शर्मा ने किया कार्यक्रम में कार्यक्रम को वर्चुअल व्यवस्था में सोशल मीडिया सह प्रमुख देवेश धानुक मंच व्यवस्था में यीशु शर्मा विक्की रजक अतिथि व्यवस्था में रत्नेश तिवारी रमन राठौर एंट्री व्यवस्था दीपा जाटव रंगोली व्यवस्था में राधिका खंडेलवाल रितिका परमार आस्था जा श्रेया अल्पाहार व्यवस्था अविनाश शर्मा सचिन सारस्वत रोहन पाल इत्यादि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
15FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular