Fast Samacharपौधा रोपण एवं वृक्ष संरक्षण से ही ऑक्सीजन मिलेगी : शिवानी राठौर...

पौधा रोपण एवं वृक्ष संरक्षण से ही ऑक्सीजन मिलेगी : शिवानी राठौर / Shivpuri News

शिवपुरी। मानव जीवन के लिए पेड़ों का होना अनिवार्य है। वही कुछ लोग ऐसे भी है जो मुनाफे के लिए जंगलो का अवैध कटान करने से भी बाज़ नहीं आते और अच्छे खासे हजारों स्वस्थ पेड़ो को अपने फायदे के लिए या राजनीतिक आदेश पर विकास के नाम पर काट डालते हैं। यह बात गूगल मीट के माध्यम से शिवानी राठौर पिछड़ा वर्ग जिलाध्यक्ष कांग्रेस शिवपुरी ने अपने युवा साथियों को संबोधित करते हुए कहा कि देशभर में कोरोना वायरस बड़ी ही तेजी के साथ लोगों को संक्रमित कर रहा है, लेकिन इस बार देश सिर्फ इस वायरस की वजह से परेशान नहीं है, बल्कि इस बार ऑक्सीजन की कमी भी एक बड़ा मुद्दा बना हुआ है। कोरोना वायरस से संक्रमित होने वाले लोगों को अस्पताल में बेड नहीं मिल पा रहे हैं, और जिन्हें बेड मिल भी रहे हैं तो उन्हें ऑक्सीजन नहीं मिल पा रही है।

ऑक्सीजन गैस क्रायोजेनिक डिस्टिलेशन प्रोसेस के जरिए बनती है। इस प्रक्रिया में हवा को फिल्टर किया जाता है, ऐसा करने से धूल-मिट्टी इससे अलग हो जाती है। इसके बाद कई चरणों में हवा को कंप्रेस किया जाता है। ऑक्सीजन को बनाने में शुद्ध हवा चाहिए। उसके लिए जरूरी है कि हम हवा प्रदूषण पर रोक लगाए वरना आज जिस हवा से हम ऑक्सीजन बनाते जा रहे हैं कल वो हवा ऑक्सीजन बनाने के लायक नहीं रहेगी।

वही अगर पेड़ों की बात करें तो एक स्वस्थ पेड़ हर दिन लगभग 230 लीटर ऑक्सीजन छोड़ता है, जिससे सात लोगों को प्राण वायु मिल पाती है। यदि हम इसके आसपास कचरा जलाते हैं तो इसकी ऑक्सीजन उत्सर्जित करने की क्षमता आधी हो जाती है। इस तरह हम तीन लोगों से उसकी जिंदगी छीन लेते हैं। आज पेड़ों की कटाई पर्यावरण के लिए सबसे बड़ा खतरा बन चुकी है। इसलिए पौधे लगाने के साथ-साथ हमें पेड़ों को बचाने की जरूरत है। इसके लिए हमें जागरूक होने की जरूरत है। इस दुनिया में अब ऐसे व्यक्ति नहीं है जो पेड़ों को बचाने के लिए के लिए अपना जीवन तक न्योछावर कर देते थे। अपने आसपास पेड़ों को न कटनेे दें, उसका विरोध करें। उसके आसपास आग न लगाएं। इसके अलावा किसी भी स्थान पर 50 मीटर की दूरी पर एक पेड़ जरूर होना चाहिए। इससे वहां पर्याप्त मात्रा में शुद्ध हवा मिलेगी। और लोग स्वस्थ रहेंगे।

वृक्षारोपण से ऑक्सीजन लेने के लिए अपने आसपास ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाएं। ताकि मानव जाति को बचाया जा सके और भविष्य में ऐसी किसी भी परिस्तिथि का सामना न करना पड़े जिसकी वजह से मानवजाति ऑक्सीजन की वजह से खतरे में पड़ जाये।इस अवसर पर शिवानी राठौर के साथ पिंकी सोनी, रक्षा ओझा, देवकी शिवहरे अन्य युवा साथी उपस्थित रहे।

सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
14FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular