Fast Samacharहेड कांस्टेबल ने ट्रेन से कटकर दी जान, सुसाइट नोट में मौत...

हेड कांस्टेबल ने ट्रेन से कटकर दी जान, सुसाइट नोट में मौत का जिम्मेदार भौंती टीआई पूनम सविता, दो एसआई व आरक्षक को बताया / Shivpuri News

शिवपुरी। भौंती थाने में पदस्थ रहे प्रधाान आरक्षक महेंद्रसिंह चौहान ने शनिवार को शााम के समय रेलवे स्टेशन पर ग्वालियर-पुणे ट्रेन से कटकर आत्महत्या कर ली है। प्रधान आरक्षक महेंद्र सिंह चौहान ने सुसाइड नोट भी छोड़ा है जिसमें आत्महत्या के लिए भौंती टीआई, दो एसआई और एक आरक्षक को जिम्मेदार ठहराया है।

पुलिस लाइन शिवपुरी में अटैच चल रहे प्रधान हेड कांस्टेबल महेंद्र सिंह चौहान (54) पुत्र बुद्धसिंह निवासी उन्नाव बालाजी जिला दतिया ने शनिवार की शाम 7 बजे शिवपुरी रेलवे स्टेशन पर ट्रेन से कटकर जान दे दी। जीआरपी पुलिस ने शिनाख्त कर स्थानीय पुलिस को सूचना दी। आरआई भारत यादव मौके पर पहुंच गए। बाद में एसपी राजेश सिंह चंदेल भी आ गए थे। शव को पीएम के लिए भिजवाया गया। सूचना मिलने पर करैरा से परिजन भी शिवपुरी आ गए। बाद में सुसाइड नोट का पता चला। जिसमें मृतक महेंद्र सिंह ने भौंती टीआई पूनम सिंह सविता सहित दो एसआई व एक आरक्षक का जिक्र किया है। एंट्री नहीं करने पर मेडिकल कराकर मुझ पर झूठा केस दर्ज कराया है। इसी से महेंद्र सिंह दु:खी चल रहे थे।
बेटी की शादी चार दिन बाद होनी थी: मृतक हेड कांस्टेबल की बेटी की 7 मई को शादी तय हो गई थी। कार्ड भी छप चुके थे। लेकिन कोरोना महामारी के चलते शादी कैंसल हो गई। अब चार दिन बाद फिर से शादी की तैयारी थी। बेटी की शादी से पहले ही प्रधान आरक्षक ने आत्महत्या कर ली। बेटे धर्मेंद्र सिंह चौहान ने भी भौंती टीआई व तीन अन्य पुलिस वालों को अपनी पिता की मौत का जिम्मेदार बताया है।

जीआरपी पुलिस कार्रवाई कर रही: पटरी पर मिलने की वजह से मामले की जांच शिवपुरी जीआरपी थाना पुलिस कर रही है। बताया जा रहा है कि दोपहर 2 बजे हेड कांस्टेबल को स्टेशन पर देखा गया था। शाम को ट्रेन स्टेशन पर आई तो डिब्बे में चढ़े। संभवत: दूसरी तरफ से उतर गए और मुंह पर कपड़ बांधकर लेट गए होंगे। ट्रेन के पहिए से सिर धड़ से अलग हो गया। रात 9 बजे जाकर लाश उठाई जा सकी। जीआरपी थाना प्रभारी कमलेश गौतम ने कंट्रोल रूम पर इस बात की शिकायत की।

दिसंबर में अटैच हुए, 5 अप्रैल से गैरहाजिर थे
मृतक प्रधान आरक्षक महेंद्र सिंह दिसंबर 2020 में पुलिस लाइन अटैच हुए थे। वर्दी में शराब पीने पर यह कार्रवाई हुई थी। मामले की जांच एसडीओपी द्वारा की गई थी। मेडिकल में भी शराब के नशे में होना पाया गया था। साथ ही 5 अप्रैल से गैर हाजिर चल रहे थे।ॉ राजेश सिंह चंदेल, एसपी शिवपुरी

सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
15FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular