Shivpuriविधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा विधिक साक्षरता मेले का आयोजन, एक हजार से...

विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा विधिक साक्षरता मेले का आयोजन, एक हजार से अधिक हितग्राहियों हुए लाभान्वित / Shivpuri News

शिवपुरी/ राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में आजादी के अमृत महोत्सव के तहत रविवार को वृहद विधिक साक्षरता मेला का आयोजन किया गया। मेले में विभिन्न विभागों की प्रदर्शनी लगाई गई जिसका अतिथियों ने अवलोकन किया। प्रदर्शनी के माध्यम से विभिन्न विभागों की योजनाओं की जानकारी हितग्राहियों को दी गयी। कार्यक्रम में उत्कृष्ट विधालय की छात्राओं ने सरस्वती वंदना की प्रस्तुति दी और लोक नृत्य प्रस्तुत किया।

इस कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रधान जिला न्यायाधीश श्री विनोद कुमार ने की। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि कलेक्टर श्री अक्षय कुमार सिंह, विशिष्ट अतिथि पुलिस अधीक्षक श्री राजेश सिंह चंदेल और विशिष्ट आमंत्रित अतिथि कुटुंब न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश संजीव अग्रवाल, जिला अभिभाषक संघ के अध्यक्ष  विनोद धाकड़, विशेष न्यायाधीश  उमेश श्रीवास्तव मंचासीन रहे।

विधिक सेवा प्राधिकरण और जिला प्रशासन के संयुक्त तत्वाधान में कई विभागों द्वारा प्रदर्शनी लगाई गई। कई विभागों के अधिकारी कर्मचारी विधिक साक्षरता मेला में मौजूद रहे।कार्यक्रम में स्कूली छात्र छात्राओं, आशा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और बड़ी संख्या में हितग्राहियों की मौजूदगी रही। विधिक साक्षरता मेले में लगभग 1027 हितग्राही लाभान्वित हुए जिन्हें विभिन्न योजनाओं के तहत लाभ वितरण किया गया।

जिला प्रधान न्यायाधीश श्री विनोद कुमार सिंह ने अपने उदबोधन में कहा कि विधि के समक्ष सभी समान हैं। सभी को कानूनी सहायता का अधिकार है लेकिन सभी को विधिक सहायता की जानकारी नहीं होती इसलिए आजादी के अमृत महोत्सव के तहत अभियान चलाकर शिविर लगाए जा रहे हैं। इसमें विभिन्न विभागों का भी सहयोग लिया गया।
मुख्य अतिथि कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने कहा कि कई ऐसे वर्ग हैं जिन्हें विधिक जानकारी नहीं होती। उनके लिए इस प्रकार के शिविर अच्छा माध्यम है। इस प्रकार के शिविर का आयोजन होते रहना चाहिये। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि पुलिस अधीक्षक श्री राजेश सिंह चंदेल ने भी कार्यक्रम की सराहना की।

जिला न्यायाधीश   अर्चना सिंह ने स्वागत भाषण दिया और विधिक सेवा शिविर की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इसका उद्देश्य कमजोर वर्गों के लोगों को विधिक सहायता उपलब्ध कराना है।

विधिक साक्षरता मेले में बाल दिवस के अवसर पर बच्चों की गतिविधियां भी आयोजित की गई। उत्कृष्ट विद्यालय के छात्रों द्वारा प्रदर्शनी लगाई गई। इस दौरान ‘युवाओं में बढ़ता हुआ नशे का प्रभाव और समाज की भूमिका’ विषय पर वाद विवाद प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। स्कूलों में आयोजित चित्रकला, निबंध प्रतियोगिता आदि में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्र छात्राओं को शील्ड और प्रमाण पत्र प्रदान किए गए।

कार्यक्रम के अंत में अतिथियों को मोमेंटो प्रदान किए गए। साथ ही विभिन्न विभागों के समन्वय के लिए अधिकारियों को भी मोमेंटो प्रदान किए गए। चाइल्ड लाइन द्वारा नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति दी गई।

सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
16FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular