Shivpuriसांसद जी, आप बोलते हैं शिवपुरी में पर्यटकों को बढ़ावा देंगे, और...

सांसद जी, आप बोलते हैं शिवपुरी में पर्यटकों को बढ़ावा देंगे, और यहां के प्रशासन की वजह से लोग यहां आने तक को तैयार नही / Shivpuri News

बस स्टैंड के यात्री प्रतीक्षालय में चारों ओर पसरी गंदगी, कई बार शिकायत के बाद भी नहीं हो रही सुनवाई

शिवपुरी। नया बस स्टैंड के यात्री प्रतीक्षालय में चारों ओर गंदगी पसरी हुई है. लोगों के शिकायत करने के बाद भी सुनवाई नहीं हो रही है. अव्यवस्थाएं नगर पालिका के स्वच्छता दावों की पोल खोलती नजर आ रही है. नगर के नया बस स्टैंड पर साफ-सफाई और पेयजल जैसी मूलभूत सुविधा उपलब्ध कराने में भी नगर पालिका प्रशासन नाकाम साबित हो रहा है. यहां पदस्थ प्रभारी सीएमओ की उदासीनता का खामियाजा यहां आने वाले यात्रियों को उठाना पड़ रहा है

बस स्टैंड पर यात्रियों के लिए न बैठने की उचित व्यवस्था है और न उन्हें पीने का शुद्ध पानी मिल रहा है. वहीं साफ सफाई नहीं होने के कारण यात्री प्रतीक्षालय में चारों ओर गंदगी पसरी रहने से बाहर से आने वाले यात्री इधर-उधर भटकते रहते हैं. आंकड़ों के हिसाब से बात करें तो प्रतिदिन इस बस स्टैंड से तकरीबन 250-300 बसें प्रति दिन गुजरती है. ये बसें बस स्टैंड से प्रतिदिन भोपाल इंदौर, दिल्ली, आगरा, झांसी, मुरैना,श्योपुर, ग्वालियर और वहां से बैराड़ और भी कई जगह. करीब 4000-5000 यात्री इन बसों में अपना सफर तय करते हैं. लेकिन बस स्टैंड पर सुविधाएं न होने तथा चारों ओर फैली गंदगी को लेकर यात्री परेशान हैं.

प्रतीक्षालय में बनी पानी की टंकी में कई महीनों से पानी नहीं भरा जा रहा है जिसके कारण यात्रियों को पीने के पानी के लिए परेशान होना पड़ता है. यात्री प्रतीक्षालय में पसरी गंदगी से महिला यात्रियों को भारी परेशानी होती है वे इधर-उधर भटकती रहतीं हैं. पसरी गंदगी और पेयजल की समस्या को लेकर बस स्टैंड क्षेत्र के दुकानदार भी परेशान हैं. दुकानदारों ने कहा कि वे कई बार नगर पालिका कार्यालय पर जाकर अधिकारियों को इस परेशानी से अवगत करा चुके हैं लेकिन यहां पदस्थ प्रभारी सीएमओ के मुख्यालय पर नहीं रहने के कारण शिकायत के बाद भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जाता है. जबकि नगर पालिका द्वारा प्रतिदिन यहां से गुजरने वाली बसों से बस स्टैंड के रखरखाव के नाम पर प्रति बस 100-150 रूपयों की वसूली की जा रही है.

वही यहां दूर से आने वाले यात्रियों का कहना है कि वह दोबारा शिवपुरी में नही आना चाहते, क्योंकि यहां बहुत ज्यादा गंदगी है, जिसका प्रशासन का बिल्कुल ध्यान नही है, वही प्रधानमंत्री मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी का जो स्वछता अभियान चलाया जा रहा है वह शिवपुरी में बेअशर दिखाई देता है।

सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
16FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular