Shivpuriकमलनाथ के नेतृत्व में ओबीसी को अधिकार दिलाने  सड़क से लेकर संसद तक...

कमलनाथ के नेतृत्व में ओबीसी को अधिकार दिलाने  सड़क से लेकर संसद तक संघर्ष करेगी कांग्रेस : श्रीप्रकाश शर्मा / Shivpuri News

शिवपुरी। मध्य प्रदेश में हो रहे पंचायत चुनाव को लेकर अन्य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण को समाप्त कर चुनाव करने के मामले में मध्य प्रदेश की शिवराज सिंह चौहान की सरकार ने एक बार फिर अदालत में अपना ओबीसी विरोधी चेहरा पेश किया है। शिवपुरी जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पं. श्रीप्रकाश शर्मा एवं प्रवक्ता विजय चौकसे ने कहा कि अगर मध्य प्रदेश सरकार जोरदार तरीके से न्यायालय में ओबीसी वर्ग का पक्ष रखती तो आरक्षण समाप्त होने की नौबत नहीं आती।

उच्चतम न्यायालय ने महाराष्ट्र के मामले का हवाला देते हुए मध्य प्रदेश के पंचायत चुनाव में ओबीसी आरक्षण निरस्त किया है। शिवराज सिंह चौहान सरकारउच्चतम न्यायालय में बात सही तरीके से नहीं रख सकी। आरक्षण निरस्त होने के फैसले से अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों को गहरा धक्का पहुंचा है।

भारतीय जनता पार्टी ओर आरएसएस की सोच हमेशा से आरक्षण को समाप्त करने की रही है। अपने षड़यंत्र, गलतियों और अन्य पिछड़ा वर्ग विरोधी चरित्र को छुपाने के लिए बीजेपी कांग्रेस पार्टी पर झूठे इल्जाम लगा रही है। मध्‍यप्रदेश के पंचायत चुनाव को लेकर कांग्रेस पार्टी ने 6 दिसंबर को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में स्‍पष्ट शब्दों में सार्वजनिक कर दिया था संबंधित पक्षकार निजी हैसियत में अदालत में गए थे। पूर्व मंत्री एवं पिछोर विधायक केपी सिंह कक्काजू ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने पंचायत चुनाव की प्रक्रिया के असंवैधानिक पक्षों का विरोध किया था। सुप्रीम कोर्ट ने भी राज्य निर्वाचन आयोग से यही बात कही है कि चुनाव में संवैधानिक प्रक्रिया का पालन किया जाए।

शिवराज सरकार का ओबीसी विरोधी रवैया पहली बार सामने नहीं आया है इससे पहले नौकरियों में आरक्षण के मामले में हाईकोर्ट में चल रही सुनवाई में भी सरकार की ओर से वकील पेश हुए और मामले की सुनवाई अनिश्चि तकाल के लिए टल गई। भारतीय जनता पार्टी ने जानबूझकर चुनाव प्रक्रिया में ऐसी असंवैधानिक गलतियां छोड़ दी थी जिनसे ओबीसी के हित प्रभावित हों। भाजपा सरकार को इस मामले में सभी कानूनी पहलुओं पर विचार करके तत्काल कार्यवाही करनी चाहिए ताकि ओबीसी वर्ग के लोगों को पंचायत में उनका हक मिल सकें।

माननीय कमलनाथ के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी मध्य प्रदेश के ओबीसी वर्ग को उसका हक दिलवाने के लिए कृत संकल्पित है। कांग्रेस सड़क से संसद तक संघर्ष करेगी और सामाजिक न्याय की लड़ाई को जारी रखेगी और ओबीसी आरक्षण को समाप्त करने का भाजपा षड़यत्र कभी पूरा नहीं होने देगी

सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
16FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular