Shivpuriपेड़ बचाओं पेड़ लगाओं पर्यावरण बचाओं और प्रदूषण मिटाओं, धरती का श्रृंगार...

पेड़ बचाओं पेड़ लगाओं पर्यावरण बचाओं और प्रदूषण मिटाओं, धरती का श्रृंगार वृक्ष हं : शर्मा  / Shivpuri News

शिवपुरी। अखिल भारतीय ब्राहण महासभा (सनातन) जिला ईकाई शिवपुरी द्धारा जिला पंचायत कार्यालय के सामने ब्राहण प्याऊ के पास पोहरी रोड़ पर पौधारोपण किया गया। सबसे पहले भगवान परशुराम के चित्र पर सामज के बुर्जग लक्ष्मीनारायण मुदगल एंव आर.डी.शर्मा ने माल्यार्पण व दीप प्रज्वलित कर पीपल व तुलसी की पूजा कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।

अखिल भारतीय ब्राहण महासभा (सनातन) के जिलाध्यक्ष ने अपने उद्धवोधन में कहा कि धरती का श्रंगार वृक्ष है जीवन का आधार वृक्ष है आज वायु में गन्दगी है पानी दूषित है। भोजन दूषित है संस्कार दूषित है सोचिए मनन की जिये भारत में वायु प्रदूषण वे लगाम होकर जान लेवा हो गया हैै प्रकृति के नियमों की अबह लेना हो रही है जिसका परिणाम अद्भुत बीमारियों (असाध्य रोग) पनप रहे है हम प्रकृति से सनिध्य में आये कुछ कर दिखाये प्रथम वायु प्रदूषण को रोके घर-घर रोड़ दूरोड़ वृक्षा रोपण करे जिससे शुद्ध वायु मिलेे जल भी शुद्ध होगा और आचार-विचार भी शुद्ध होगे। हमें 1 वृक्ष पीपल व बरगद का 2 लाख की आक्सीन 2 लाख पचास हजार रूपये का भूक्षरण 3 लाख का मिट्टी की आद्रता नियंत्रण 3 लाख पानी का पुनरावर्तन 5 लाख वायु प्रदूषण नियंत्रण दो लाख पचास हजार जीव जन्तु व पक्षिओं की शरण स्थली बीस हजार की जैविक प्रोटीन दो लाख पचास हजार की मानव को जड़ी बूटिया प्रदान करता है।

पं. चतुर्भुज (समाधिया) शर्मा ने इस मौके पर कहा कि एक वृक्ष दस पुत्र समान इसलिये पौधारोपण एा पवित्र सामाजिक एंव सांस्कृति कार्यक्रम है। ब्राहण समाज का  यह कार्यक्रम आने वाली पीढ़ी का दिशा दर्शन देगी पौधारोपण में बरगद ,पीपल, नीम,वीलपत्र ,अनार ,सभीके पौधे लगाये उनकी सुरक्षा हेतु  ट्रीगार्ड लगाये गये इस कार्यक्रम में अध्यक्ष पुरूषोत्तम कान्त शर्मा आर.डी.शर्मा,सन्तोष शर्मा, डॉ. जी.पी. विरथरे,गिर्राज चौधरी ,रामगोपाल शर्मा,लखन अवस्थी, रामस्वरूप मुदगल,चन्तभुज शर्मा,महावीर मुदगल,कुंचविहारी चतुर्वेदी,राजकुमार सडैया,राजू पिपरघार,महेन्द्र शर्मा,राजेन्द्र पाण्डेय, रामचरण शर्मा, केशव शर्मा, हरिओम चतुर्वेदी ,हरिओम शर्मा, सूर्या शमार्, आदि विप्र वन्दू इस मौके पर उपस्थित थे

सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
17FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular