Gwaliorमकान के लिए बड़े भाई ने मारी थी गोलियां, छोटे भाई ने...

मकान के लिए बड़े भाई ने मारी थी गोलियां, छोटे भाई ने दम तोड़ा, बहन अब भी गंभीर हालत में / Gwalior News

-गुरुवार शाम थाटीपुर थाना क्षेत्र के नदीपार टाल इलाके में मकान के बंटवारे पर छोटे-बहन को मारी थीं गोलियां

ग्वालियर। मकान के बंटवारे में दो कमरे ज्यादा न देने पर सगे बड़े भाई ने छोटे भाई-बहन को गुरुवार को गोलियां मार दी थीं। इलाज के दौरान आखिर छोटे भाई ने शुक्रवार को दम तोड़ दिया जबकी बहन अभी भी जिंदगी और मौत से जूझ रही है। बहन की भी हालत गंभीर है उसे भी तीन गोलियां लगी थीं। घटना गुरुवार शाम थाटीपुर थाना क्षेत्र के नदीपार टाल तृप्ती नगर की है। पुलिस ने हत्या के प्रयास को हत्या में बदल दिया है। गोलियां दागने के बाद से बड़ा भाई सोनू शर्मा अभी फरार है।

पूरे क्षेत्र में चर्चा,  क्या भाई-बहन से ज्यादा कीमती थे मकान के दो कमरे 

थाटीपुर के नदीपार टाल तृप्ती नगर में राजकुमार शर्मा की मकान है। राजकुमार की मौत हो चुकी है। तीन मंजिला मकान में राजकुमार की पत्नी ऊषा के साथ उसकी बेटी पूनम (23), बेटा रवि (21) व सास रहते थे। बड़ा बेटे सोनू शर्मा को भी घर में उसे एक कमरा दिया था। सभी के पास एक-एक कमरा था। अन्य कमरे किराए पर थे। सोनू अपराधिक छवि का है। वह हत्या के मामले में चार साल से जेल में था। यहां उसकी पत्नी रहती थी। अभी 15 दिन पहले ही वह जमानत पर छूटकर आया है। उसने घर में हिस्सा मांगा, लेकिन मां ने मना कर दिया। इस पर सोनू ने पत्नी को दिल्ली उसके मायके छोड़ दिया। गुरुवार को वह अपने साले के साथ अपने नदीपार टाल घर पहुंचा।

आसपास के लोगों से हो रही थी चर्चा

गुरुवार की शाम सोनू ने बंटवारे के लिए आसपास के लोगों को बुलाया। बुजुर्गो को बुलाकर बातचीत चल रही थी, तभी सोनू ने कहा कि उसे मकान में दो कमरे चाहिए। वह अपना हिस्सा बेचना चाहता है। इस पर छोटे भाई रवि ने विरोध किया। विवाद होने पर सोनू बाहर गया और पिस्टल लोड कर ले आया। सबसे पहले वह बहन पूनम के पास गया और उस पर एक के बाद एक तीन गोलियां चला दीं। बहन बाहर की तरफ भागी तो पीठ में उसे गोलियां लगी। बहन को बचाने आए छोटे भाई रवि शर्मा को भी सोनू गोलियां मार दी। ताबड़तोड़ गोलियां चलाने के बाद सोनू शर्मा और उसका साला वहां से फरार हो गया। घायल पूनम और रवि को परिजन पहले मुरार के एक निजी अस्पताल पहुंचे और उसके बाद जेएएच के ट्रॉमा सेंटर लेकर गए थे। शुक्रवार की दोपहर में रवि ने दम तोड़ दिया।

सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
16FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular