ट्रक ड्रायवर को नहीं दिया नौ माह का वेतन तो करवा दी ट्रक की चैकिंग, फुटवियर बिल्टी के नाम पर ले जा रहे थे गुटखा / Shivpuri News


िशवपुरी। ट्रक ड्राइवर को उसके मालिक ने नौ महीने का वेतन नहीं दिया तो चालक ने दो ट्रकों को सुभाषपुरा पुलिस थाने ले जाकर चेकिंग करा दी। दोनाें ट्रकों में फुटवियर की बिल्टी थी, लेकिन उसमें गुटखा और सिगरेट ले जाई जा रही थी। पुलिस ने दोनों ट्रक चालकों सहित रोड लाइन्स के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामला विवेचना में ले लिया है।


फरियादी रामेश्वर धाकड़ (32) पुत्र रामभरत धाकड़ निवासी सुभाषपुरा ने अपने भाई सोबरन उर्फ गोलू, पानसिंह सिकरवार एवं धारा सिंह के साथ दो ट्रक एचआर38 एक्स1236 व एचआर38 एए1382 को लेकर सुभाषपुरा थाने पहुंच गया। रामेश्वर ने बताया कि वह ट्रक क्रमांक एवं एचआर38 एक्स 1236 को चलाता था। लेकिन ट्रक मालिक प्रकाश चावला द्वारा उसके पिछले 9 माह की वेतन नहीं दिया है। मैंने मेहनताना मांग तो मेरी छुट्‌टी कर दी। मुझे जानकारी लगी कि उक्त दोनों ट्रकों मे जूते-चप्पल एवं अन्य सामान की बिल्टी की आढ़ में गुटखा, सिगरेट एवं अन्य माल दिल्ली से महाराष्ट्र ले जाया जा रहा है। क्यों कि महाराष्ट्र में गुटखा प्रतिबंधित है। इसलिए उसे दूसरे सामान की बिल्टी पर ले जाया जा रहा है।


फरियादी की सूचना पर पुलिस ने ट्रक क्रमांक एचआर 38 एए1382 के चालक अवधेश धाकड़ से माल की बिल्टी मांगी। उसने अलग-अलग बिल्टियां पेश की जिसमें 107 बिल्टियों में फुटवियर, 31 बोरी खाली स्टील कंटेनर, पांच वॉशिंग मशीन, तेरह नग एलईडी के दर्ज थे। ट्रक क्रमांक एचआर38 एए1382 को खाली कराकर चैक किया तो कुल साठ बॉक्स फुटवियर की बोरियों में बंद मिले। जिनमें से एक बॉक्स को खोला तो उसमें चप्पल निकली और 31 बोरी खाली छोटे सिलेंडर और हर बोरी में 9-9 छोटे सिलेंडर निकले। 50 नीले रंग की बोरी को देखा तो अंदर दो सफेद व दो गुलाबी रंग के छोटे कट्‌टे निकले। सफेद बोरी में बाहर खानदानी पान मसाला और एक पैकेट में पांच छोटे पैकेट व तीन छोटे पैकेट अलग रखे मिले। गुलाबी रंग के कट्‌टे में 12 पैकेट बीएचआर हैरीटेज टुबैंको प्रोडक्ट रखे मिले। कत्थई रंग के 42 बोरियों में बड़े पैकेट चेक किया तो बोरी में वाह पान मसाला के निकले। पुलिस ने दोनों ट्रक चालक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

नया पेज पुराने