आत्महत्या करने से पहले लिखा सुसाइड नोट, कहा, मुझे इंसाफ जरूर दिलाना, प्रेम शर्मा को ब्याज लेना भुला देना / Shivpuri News


0% ब्याज पर रकम उधार लेकर आईपीएल सट्‌टे में हारा था
शिवपुरी। शहर की पुलिस लाइन में 16 अप्रैल को युवक की आत्महत्या के मामले में रविवार को सुसाइड नोट सामने आया है। सुसाइड नोट में युवक ने ब्याज वसूलने वाले तीन लोगों को जिम्मेदार ठहराया है। इसमें बताया गया है कि 10% ब्याज पर रकम उधार लेकर आईपीएल सट्‌टा खेला था, जिसमें हारने के बाद पैसे नहीं लौटा पा रहा था।


प्रदीप सिंह रघुवंशी पुत्र कालूराम रघुवंशी ने शुक्रवार को आत्महत्या कर ली थी। ट्रैफिककर्मी पिता कालूराम ने सिटी कोतवाली थाना पुलिस को बेटे की मौत का सुसाइड नोट दिया है। सुसाइड नोट में लिखा है कि “मैं प्रदीप रघुवंशी आज आत्महत्या कर रहा हूं। क्योंकि मुझे कुछ लोग ज्यादा ही परेशान कर रहे हैं। प्रदीप रावत जिसने मुझसे मेरे चेक ले लिए। वो पिछली बार आईपीएल खेला था और हार गया था। जबरदस्ती चेक ले लिए और स्टांप पर साइन करा लिए और अब हर जगह मेरी बेइज्जती करता है। दूसरा नाम है प्रेम शर्मा, पुलिस लाइन जो पोहरी चौराहा वाली लाइन में रहते हैं। उन्होंने मुझे 30 हजार रुपए दिए थे। 10% ब्याज पर तीन साल से ब्याज दे रहा था। अभी लॉक डाउन में सिस्टम बिगड़ गया तो रोज फोन लगा कर धमकी देते हैं। उनके मिस कॉल मेरे फोन पर चेक कर सकते हैं। एक और है संजय शर्मा खजूरी वाला जो 10% ब्याज से पैसे देता है। अब मुझे जान से मारने की धमकी दे रहा है। मेरा सारा बिजनेस वैसे भी लॉक डाउन में बर्बाद हो गया।


सुसाइड नोट में यह आरोप

 
अब तो बहुत परेशान हूं और आत्महत्या कर रहा हूं। इसे आत्महत्या ना समझें, इसे मर्डर ही समझें। मेरी विनती है रघुवंशी समाज व पुलिस प्रशासन से, इन लोगों को सजा दिलाएं। मेरे जैसे कितनों के परिवार इन लोगों ने बर्बाद कर दिए। मुझे इंसाफ जरूर दिलाना और प्रेम शर्मा को ब्याज लेना भुला देना। आपका प्यारा प्रदीप रघुवंशी।


नया पेज पुराने