संस्कृत भाषा सभी के लिए उपयोगी है और इसको आगे बढ़ाया जाना चाहिए : प्रो. महेंद्र कुमार / Shivpuri News


शासकीय माधवराव सिंधिया स्नातकोत्तर महाविद्यालय में 10 दिवसीय संस्कृत संभाषण शिविर का हुआ समापन

शिवपुरी। शासकीय माधवराव सिंधिया स्नातकोत्तर महाविद्यालय में 10 दिवसीय संस्कृत संभाषण शिविर का समापन कार्यक्रम बीते रोज आयोजित हुआ जिसमें महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. महेंद्र कुमार, संस्कृत विभागाध्यक्ष डॉ. मधुलता जैन, डॉ. शंकर सुमन सिंह भदोरिया दर्शनशास्त्र विभाग, अतिथि विद्वान डॉ. अंशाली गर्ग, संस्कृत भारती के विभाग संयोजक सुरेश शर्मा, संस्कृत भारती शिवपुरी के अध्यक्ष प्रदीप लक्षकार, संभाषण शिविर के शिक्षक दीपेंद्र शर्मा आदि मौजूद रहे। संस्कृत विभागाध्यक्ष डॉ. मधुलता जैन द्वारा संचालन एवं अतिथियों का परिचय कराया गया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. महेंद्र कुमार ने संस्कृत भाषा सभी के लिए उपयोगी है और इसको आगे बढ़ाया जाना चाहिए। इसके लिए महाविद्यालय में जो भी आवश्यक हो मैं करूंगा। महाविद्यालय में एमए की सीटों को बढ़ाने का भी आश्वासन दिया। मुख्यवक्ता के रूप में संस्कृत भारती के विभाग संयोजक सुरेश शर्मा ने संस्कृत भाषा वैज्ञानिकी भाषा है और इसको सभी अपनाएं तो भाषा के साथ-साथ संस्कार भी अपने आप आते हैं। विशिष्ट अतिथि के रूप में संस्कृत भारती के अध्यक्ष प्रदीप लक्षकार ने संस्कृत को पढ़ने से मस्तिष्क तेजी से कार्य करने लगता है इस बात से संस्कृत भाषा का बहुत महत्वपूर्ण स्थान हमारे जीवन में है। इस अवसर पर छात्रों के द्वारा कई कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए जिसमें रानी कुशवाह के द्वारा सरस्वती वंदना की गई। रेनू शर्मा के द्वारा ध्येयमंत्र का गायन किया गया। सुरेखा लोधी के द्वारा संस्कृत में दिनचर्या बताई गई। प्रेरणा शर्मा ने मधुर संस्कृत गीत गाकर सबका मन मोह लिया। चंद्रप्रकाश ने संस्कृत के महत्व को बताया। भारती लोधी और पूजा रघुवंशी ने संस्कृत संभाषण शिविर के अनुभव को बताया। भारती रघुवंशी ने कल्याण मंत्र गाया एवं अतिथि विद्वान डॉ. अंशाली गर्ग द्वारा उपस्थित सभी अतिथियों का आभार प्रदर्शन किया गया। कार्यक्रम में डॉ. शंकर सुमन सिंह भदोरिया, दर्शनशास्त्र विभाग डॉ. शुभा वाष्णेय, डॉ श्रद्धा शर्मा, डॉ. सोनल दीक्षित, डॉ. अंजुम खान, डॉ. रंजना पटेरिया, नेहा सोनी आदि मौजूद रहे।

नया पेज पुराने