ऑनलाइन ठगी का शिकार होते बचा शिक्षक / Shivpuri News

बीएलओ ऐप कराया डाऊनलोड हुआ ऐनी डेस्क ऐप 


शिवपुरी। ऑनलाइन ठगी का शिकार करने वाले ठगों द्वारा आए दिन जिले भर में आम नागरिकों सहित शासकीय कर्मचारियों को अपना निशाना बनाकर उनके खाते से ऑनलाइन खरीददारी कर खाते की राशि को पलक झपकते ही साफ कर दिया जाता है। लेकिन जरा सी सतर्कता से ठगी की बारदात होने से बचा जा सकता है।  


ऐसा ही एक मामला शिक्षक व संगीतकार मुकेश आचार्य के साथ आज दोपहर 2 बजकर 32 मिनट पर अज्ञात नंबर 8603738890  से फोन आया जिसमें वह अपने आप को पहले जिला व बाद में वरिष्ठ निर्वाचन कार्यालय का प्रोग्रामिंग अधिकारी बताते हुए उनके निर्वाचन क्षेत्र भाग संख्या 5 पडोदा में हाल ही में किए निर्वाचन कार्य की जानकारी फॉर्म 6, 7 व 8 की जानकारी लेते हुए वोटर हेल्पलाइन ऐप की जानकारी देने लगा। 

उसने बताया कि अब आपको नवीन मतदाता की सूची आपको बीएलओ को मिलने वाले भत्ते की  जानकारी सहित समस्त कार्य उसके द्वारा बताए जा रहे ऐप बीएलओ ऐप पर होने की बात कहते हुए उसे अपडेट कराते हुए ऐनीडेस्क ऐप को डाउनलोड कराया। उसके बात उनका मोबाइल उनके साथ साथ  ठग भीऑपरेटिंग करने लगा। जब  आचार्य कोई सबाल करते तो उनकी शिकायत जिला व एसडीएम से करने धमकी देने लगा। ठग ने बताया इस नए ऐप को फोन के माध्यम से ही ऑपरेटिंग करते हुए शुरू करने की बात कहने लगा इसके लिए कोई ऐसी जानकारी चाहिए जिसमें आचार्य का पूरा नाम अंग्रेजी के केपिटल अक्षर में हो, उसने बताया ऐसे नाम तो डेबिट कार्ड में होते है। 

 

उसकी आईडी मोबाइल का कैमरा ऑन करके बताओ तब ऐप चालू होगा। उसके बाद उसने श्री आचार्य के स्टेट बैंक का खाता नम्बर और एटीएम का पूरा नम्बर बताते हुए कहने लगा इसे पलटकर मेग्नेटिक स्ट्रिप वाली साइड को कैमरे के सामने ले जाए। इस मना वह मना करने लगे फिर भी उसने एक मेसेज कर चार अंक बोलने की कहने लगा और कहने लगा अभी हाल ही में बीएलओ का मानदेय भी डाला गया है इसकी जानकारी इस ऐप के चालू होते ही लग जाएगी। शिक्षक आचार्य को शंका होने लगी उन्होंने वह अंक नही बताए जिस पर उसने फोन काट दिया । इसके बाद उन्होने कोलारस निर्वाचन कार्यालय में पदस्थ आकाश शर्मा और रिजवान खान से जानकारी ली तो उन्होंने बताया ऐसा कोई ऐप नही है। ठग शिक्षक को 40 मिनट 52 सेकेंड तक बातो में उलझाए रखा।

नया पेज पुराने