सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने और मास्क न पहनने वालों पर होगा जुर्माना, रविवार को नहीं होगा लॉकडाउन / Shivpuri News

क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक आयोजित



शिवपुरी।
कोविड-19 के बढ़ते मरीजों को मद्देनजर सोशल डिस्टेंसिंग एवं सभी को मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है। उल्लंघन किए जाने पर 100 रूपए का अर्थदण्ड लगाया जाएगा और संबंधित को मास्क दिया जाएगा। नगर पालिका के वाहनों के माध्यम से कोविड-19 से बचाव हेतु मास्क, सोशल डिस्टेसिंग, रोको-टोको संबंधी संदेश आवश्यक रूप से प्रसारित किया जाए। उक्त निर्णय आज कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह की अध्यक्षता में आयोजित जिला क्राइसेस मैनेजमेंट समूह की बैठक में लिए गए।
जिलाधीश कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित बैठक में एसपी राजेश सिंह चंदेल, जिला पंचायत के सीईओ एचपी वर्मा सहित समूह के सदस्य, शहर के गणमान्य नागरिक एवं अन्य अधिकारी मौजूद रहे।


दुकानदारों को सेनेटाइजर, थर्मल स्क्रीनिंग, सोशल डिस्टेंसिंग का करना होगा पालन


क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक में सर्व सम्मति से निर्णय लिया गया कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित किया जाएगा। सभी दुकानों एवं प्रतिष्ठानों के संचालकों को अनिवार्यतः अपने-अपने प्रतिष्ठानों में मास्क, सेनेटाइजर, थर्मल स्क्रीनिंग, सोशल डिस्टेंसिंग की व्यवस्था करनी होगी तथा स्वयं व स्टाफ और आने वाले ग्राहकों को भी मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है। इस दौरान बताया गया कि टीकाकरण से शेष रहे 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति अनिवार्य रूप से टीका लगवायें।


शादी में 200 लोग हो सकेंगे सम्मलित


बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि सभी रेस्टोरेंट, खाने-पीने के संस्थान, कोचिंग क्लासेस आदि में क्षमता से 50 प्रतिशत ही व्यक्ति एक समय पर उपस्थित रहे एवं कोविड-19 प्रोटोकाॅल का पालन सुनिश्चित किया जाए। सांस्कृतिक, सामाजिक, धार्मिक, राजनैतिक, चल-समारोह कार्यक्रम आदि के लिए पूर्व अनुमति लिया जाना आवश्यक होगी। शादी, विवाह कार्यक्रम में वर-वधु पक्ष, पुजारी आदि को मिलाकर अधिकतम 200 व्यक्ति सम्मिलित हों। ग्रामीण, शहरी क्षेत्रों में मृत्यु भोज, तेहरवीं में ब्राम्हण सहित अधिकतम 100 व्यक्ति शामिल हो सकेंगे। हाॅटस्पाट से आने वाले समस्त यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग आवश्यक रूप से की एवं उन्हें 7 दिवस का क्वारनटाइन में रहने की सलाह स्वास्थ्य विभाग से जांच कर दी जाएगी।


अस्पताल में ऑक्सीजन की पर्याप्त व्यवस्था की जाए
बैठक में कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिला चिकिक्त्सालय में आॅक्सीजन की पर्याप्त व्यवस्था की जाए। जिससे किसी भी मरीज को कोई परेशानी न आए। शहर में आने वाले यात्रियों की रेलवे स्टेशन एवं बस स्टेण्डों पर गठित टीमों द्वारा चैकिंग की जाएगी। यदि किसी भी व्यक्ति को खांसी, जुखाम, बुखार आदि संक्रमण के लक्षण दिखाई देने पर स्वास्थ्य विभाग के टोल फ्री नम्बर 1075 सूचित किया जा सकता है। इस दौरान कलेक्टर श्री सिंह ने आयुष्मान भारत योजना, जल संरक्षण, स्वच्छता आदि की भी समीक्षा की। बैठक में सभी सदस्यों ने अपने-अपने महत्वपूर्ण सुझाव भी दिए। इसके साथ ही जिला प्रशासन के साथ-साथ अपने स्तर से भी कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम हेतु जन जागृति में हर संभव सहयोग प्रदान करने का आश्वासन दिया।




नया पेज पुराने