केस दर्ज होने के बाद छितरी गांव में टीम भेजकर राशन बंटवाया / Karera News

उचित मूल्य दुकानों पर राशन नहीं बंटने देने वाले दबंगों पर प्रशासन सख्त
करैरा। तहसील के छितरी गांव में उचित मूल्य दुकान पर आए राशन की कालाबाजारी में खपाने से पहले ही अधिकारियों ने बचा लिया और फिर कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी के साथ राजस्व व पुलिस भेजकर हितग्राहियों को राशन बंटवाना शुरू कराया है। छितरी कंट्रोल के विक्रेता की संलिप्ता के चलते सहायक विक्रेता मातादीन और ग्राम पंचायत के रोजगार सहायक को जिम्मेदारी सौंपकर राशन बांटा जा रहा है।


छितरी गांव में कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी रूपेंद्रप्रताप सिंह परमार से झूमाझटकी, गाली गलौज और जान से मारने की धमकी देने वाले धर्मेंद्र यादव निवासी कालीपहाड़ी के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने के बाद प्रशासन अब ऐसी ही दूसरी दुकानों की छानबीन में जुट गया है। दबंगों के कब्जे से दुकानें मुक्त कराकर हितग्राहियों को राशन दिलाने की बात कही जा रही है। बता दें कि दबंगों ने हितग्राहियों से अंगूठे पहले ही लगवा लिए, लेकिन राशन बांटने की बारी आई तो दुकान से उठाकर गांव में दूसरे व्यक्ति के घर रखवा दिया, ताकि उसकी कालाबाजारी कर सकें।


नया पेज पुराने