नशीली दवा इंदौर सप्लाई करता था गोलू इसलिए डीआरआई ले गई थी / Picchore News


पिछोर। पिछोर से मेडिकल स्टोर संचालक युवक को गाड़ी में बिठाकर ले जाने का मामला नशीली दवा की सप्लाई से जुड़ा निकला। दरअसल गोलू झांसी से एक फार्मासिस्ट से नशीली दवाओं की सप्लाई इंदौर कर रहा था इसलिए डायरेक्टोरेट ऑफ रिवेन्यू इंटेलीजेंस (डीआरआई) इंदौर की टीम 6 फरवरी को पिछोर आकर गोलू को अपने साथ ले गई थी।

दिव्यांशु उर्फ गोलू पुत्र गोविंद चौधरी निवासी चौधरी मोहल्ला पिछोर को 6 फरवरी की सुबह चार लोग गाड़ी में बिठाकर ले गए थे। उसके साथी दिनेश पाल ने परिजन को आकर सूचना दी थी और परिजन ने पुलिस थाने पहुंचकर गाेलू के गायब होने की सूचना दी। पुलिस ने छानबीन की तो मोबाइल लोकेशन इंदौर होना बताई थी, लेकिन 10 फरवरी को अखबार में खबर छपने पर पता चला कि गोलू नशीली दवाएं सप्लाई इंदौर करता था इसलिए डीआरआई इंदौर की टीम ने पिछोर आकर गोलू को उठा लिया और अपने संग ले गई।

झांसी और इंदौर के युवकों को भी पकड़ा गया है। एक सप्ताह में ही एक करोड़ की ड्रग्स बरामद करने की बात सामने आई है। गौरतलब है कि 6 फरवरी की तड़के गोलू को चार लोगों द्वारा उठाकर ले जाने की खबर से पिछोर में अगवा होने की दहशत फैल गई थी।

जानकारी के बाद बताएंगे आगे क्या करना है
मेरी बात डीआरआई इंदौर हुई है, उनसे जानकारी मांगी है। उनका कहना है कि हमने युवक को पिछोर से नहीं उठाया है। इंदौर में युवक को पांच दिन के रिमांड पर भी लिया है। जानकारी मिलने के बाद बता पाएंगे कि आगे क्या करना है।
अजय भार्गव, टीआई, पिछोर

नया पेज पुराने