वृद्धजनों को परिवार में ही उचित स्थान मिलना चाहिए : शिवानी राठौर / Shivpuri News


शिवपुरी। स्वामी विवेकानंद जी की 158 वी जयंती से पूर्व शिवानी राठौर जिलाध्यक्ष महिला कांग्रेस शिवपुरी ने वृद्ध आश्रम जाकर वृद्धजनों की स्वल्पाहार द्वारा सेवा की तथा उनका हालचाल जाना। शिवानी राठौर जिलाध्यक्ष पिछड़ा वर्ग महिला कांग्रेस शिवपुरी ने वृद्धजनों को बताया कि हम स्वामी विवेकानंद जी की 158 वी जयंती युवा जागृति सप्ताह के अंतर्गत विभिन्न कार्यक्रमों को आयोजित कर मना रहे हैं। 

 

इसी क्रम में आज हम वृद्धजनों की सेवा करने के लिए आए हैं। शिवानी राठौर ने बताया कि सूर्य और चंद्रमा मिलकर सारे संसार को उजाला दे सकते हैं, लेकिन सारे सितारे मिलकर भी सूर्य-चंद्रमा की तरह रोशनी संसार को नहीं दे सकते हैं। उसी तरह माता-पिता कितने ही बच्चों का लालन-पालन आसानी से कर सकते हैं, 

 

लेकिन परिवार में वृद्धजनों के लिए स्थान ना मिलना दुर्भाग्य का विषय है। मेरी छोटी-छोटी सेवा द्वारा यह प्रयास रहेगा कि भारत देश में वृद्ध आश्रम आने वाले समय में बिल्कुल भी ना हो तथा युवा पीढ़ी अपने परिवार की विरासत वृद्धजनों को अपने हृदय आंगन में ही उचित स्थान दें। यदि वृद्धजनों की जड़ें नहीं होती तो शायद आज हम जैसे युवा भी इस दुनिया में नहीं होते। वृद्धजनों ने हमारा लालन-पालन बचपन में किया।

 


 अब बुढ़ापे में उनकी सेवा करना हम सभी का कर्तव्य है। मेरे द्वारा की गई छोटी-छोटी सेवा सूरज को दीपक दिखाने की तरह है। मैं तो केवल एक निमित्त मात्र हूं, जितना मुझसे बन पड़ेगा सामाजिक सहयोग करती रहूंगी। इस अवसर पर शुभम राठौर, ध्रुव कुशवाह, अमन राठौर, हिमांशु करोसिया के साथ अन्य युवा कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

नया पेज पुराने