शराब पिलाकर पति को सुलाया और प्रेमी के साथ मिलकर रस्सी से गला घोंटकर मार दिया / Pichhore News

24 घंटे में खुलासा: आखिरी बार गांव के जिन दो लोगों के संग मृतक राजेंद्र को देखा गया था, पुलिस पूछताछ में दोनों ने जुर्म कुबूल किया

 

पिछोर। पिछोर के बिरौली गांव के व्यक्ति की हत्या की गुत्थी करैरा पुलिस ने चौबीस घंटे में ही सुलझा ली है। हत्या की साजिश मृतक की पत्नी व पत्नी के प्रेमी ने रची थी। हत्या में गांव के दो और व्यक्ति शामिल निकले हैं। हत्या का खुलासा होने के बाद गांव के दोनों व्यक्ति, पत्नी को पुलिस ने पकड़ लिया है, जबकि प्रेमी फरार है। राजेंद्र को शराब पिलाकर सुला दिया और बाद में रस्सी से गला घोंटकर हत्या कर दी।


करैरा के सिरसौना गांव में पारौंच नदी किनारे फेंकने करैरा थाना पुलिस ने 8 जनवरी को राजेंद्र सिंह पुत्र तोरनसिंह निवासी बिरौली थाना पिछोर की लाश बरामद की थी। मृतक की शिनाख्ती के बाद मर्ग कायम कर मामले में छानबीन की। मृतक को आखिरी बार गांव के ही दो व्यक्ति छोटू राजा व एसपी राजा के साथ देखा गया था। पुलिस ने दोनों संदेहियों से पूछताछ की तो शुरुआत में पुलिस को गुमराह करते रहे। पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो जुर्म कुबूल कर लिया। उन्होंने खुलासा किया है कि मृतक राजेंद्र की पत्नी मंजेश राजा के गांव के ही व्यक्ति राजन उर्फ राजेंद्र से संबंध थे। जिसके चलते मंजेश भी अपने पति को रास्ते से हटाना चाहती थी। इसी के चलते प्रेमी राजन के कहने पर छोटू राजा और एसपी राजा ने मंजेश के पति राजेंद्र चौहान की हत्या की साजिश रची।



छोटू राजा और एसपी राजा द्वारा घटना से पहले 7-8 जनवरी की दरमियानी रात मृतक राजेंद्र के साथ खाने-पीने की पार्टी की। मृतक को शराब पिलाकर सुला दिया और फिर दोनों वापस आ गए। फिर मृतक की पत्नी मंजेश व राजन को फोन पर बताया कि तेरा पति सो गया है, तुम लोग आ जाओ। राजन, छोटू राजा व एसपी राजा तीनों ने जाकर रस्सी से राजेंद्र का गला घोंटकर हत्या कर दी। फिर छोटू राजा व एसपी राजा दोनों मृतक की लाश को बाइक पर बीच में रखकर सिरसौना गांव के पास पुल के नीचे ले गए और नदी किनारे फेंककर भाग गए। छोटू राजा व एसपी राजा की निशानदेही पर घटना में इस्तेमाल चादर व बाइक जब्त कर ली है। हत्या के केस में राजन फरार बताया जा रहा है। पुलिस ने हत्या के आरोप में मृतक की पत्नी सहित दो युवक पकड़े।


मृतक की पत्नी व प्रेमी ने रचा था षड्यंत्र
मृतक की हत्या का षड्यंत्र उसकी पत्नी व प्रेमी ने रचा था। गांव के दो लोगों ने मृतक को शराब पिलाई। आखिरी बार उन्हीं के साथ देखे जान पर जब दोनों से पूछताछ की तो हत्या करना स्वीकार कर लिया। गांव के दोनों व्यक्ति व पत्नी को पकड़ लिया है, जबकि प्रेमी अभी फरार है।

अमित सिंह भदौरिया, टीआई, पुलिस थाना करैरा

नया पेज पुराने