कॉलेज की जमीन पर बसे लोगों ने आशियाना बचाने मंत्री से लगाई गुहार / Bairad News

शिवपुरी/ जिले के बैराड़ में धौरिया रोड़ पर पिछले करीब 10-15 वर्षों से अपना आशियाना बनाकर रह रहे करीब एक सैंकड़ा लोगों को अब अपना आशियाना टूटने का डर सताने लगा है. ऐसे में करीब एक सैंकड़ा से अधिक महिला,पुरूष औ
र बच्चों ने गुरूवार को बैराड़ दौरे पर आए पीडब्ल्यूडी राज्य मंत्री सुरेश रांठखेड़ा के पास पहुंच कर अपना आशियाना बचाने की गुहार लगाई. साथ ही कहा कि अगर उनके मकान तोड़े गए तो वह बर्बाद हो जाएंगे. दरअसल बैराड़ के कालामढ़ पटवारी हल्के की जिस जमीन पर इन लोगों ने अपने मकान बना रखे हैं वह शासकीय भूमि है और शासन द्वारा इस जमीन को कॉलेज बनने के लिए उच्च शिक्षा विभाग के लिए आवंटित किया जा चुका है.

कॉलेज बनते ही बेघर हो जाएंगे यहां के रहवासी

लोगों ने बताया कि वे सभी मजदूरी पेशा लोग हैं. काफी वर्षों से यहां के स्थाई निवासी हैं, लेकिन कॉलेज बनाने की प्रक्रिया में उनकेे आशियानों को उजाड़ दिया जाएगा. ऐसे में वे बेघर हो जाएगें और काफी परेशानियों उठानी पड़ेंगी. अपना आशियाना बचाने के लिए वे लोग कई बार अधिकारियों से मिले, लेकिन कोई समाधान नहीं हुआ. उनके आशियानें टूटने पर अधिकांश गरीब लोग हैं जो सड़क पर आ जाएंगे. हालांकि पीडब्ल्यूडी राज्य मंत्री सुरेश रांठखेड़ा ने इस संबंध में अधिकारियों से बात करके समाधान का आश्वासन यहां के रहवासियों को दिया है.

नया पेज पुराने