ऋण लिया नहीं फिर भी 19 हजार रु. बकाया, मैं तो आत्महत्या कर लूंगा / Shivpuri News

शिवपुरी।  मैंने कभी भी ऋण नहीं लिया और मुझ पर 2018 -19 में 19 हजार का ऋण निकाला जा रहा है। मैंने सीएम हेल्पलाइन में शिकायत की, लेकिन समाधान नहीं मिला। छोटी सी पान की दुकान चलाकर बच्चों का लालन-पालन करता हूं ।

मेरी सुनवाई कर लो, नहीं तो मुझे आत्महत्या करने मजबूर होना पड़ेगा। यह बात मंगलवार को जनसुनवाई के दौरान ग्राम कालीपहाड़ी से आए रमेश शर्मा ने एडीएम आरएस बालोदिया के समक्ष कही। जिस पर उन्होंने जांच का आश्वासन देकर कहा कि आपकी परेशानी का समाधान डीआर करेंगे इसलिए अनावश्यक बातें न करें। इसके बाद आवेदन डीआर ने ले लिया, लेकिन आवेदक को कोई समाधान नहीं मिला।

कालीपहाड़ी निवासी रमेश शर्मा ने बताया कि मैं पान की दुकान चलाता हूं। जैसे- तैसे अपने चार बच्चों का लालन-पालन कर रहा हूं। 2 साल पहले 18 -19 का मुझ पर उन्नीस हजार रुपए का फर्जी ऋण बताया जा रहा है, जबकि आज तक कभी ऋण लिया ही नहीं। इस संबंध में जब 181 पर और सीएम हेल्पलाइन में शिकायत लगाई तो अधिकारियों ने झूठा लिख दिया कि समाधान हो गया, जबकि मैं आज तक परेशान हूं।

शिकायत करने पर पहले शहजाद अहमद कुरैशी और फिर कोई एलएन तिवारी को दोषी ठहराया गया, लेकिन इन पर कार्रवाई आज तक नहीं हुई। अब पैसे की वसूली मुझसे की जा रही है। अनावश्यक मुझ पर दबाव बनाया जा रहा है कि मैं राजीनामा कर अपनी शिकायत वापस ले लूं, लेकिन जब मैंने ऋण लिया ही नहीं तो फिर मैं कैसे अपने ऊपर बकाया निकलवा दूं। आवेदक की शिकायत पर एडीएम ने जांच का आश्वासन दिया।

नया पेज पुराने