मेरा अस्पताल न. 01 के तहत शक्तिशाली महिला संगठन की टीम ने जिला चिकित्सालय का निरीक्षण किया / Shivpuri News

ट्रामा सेन्टर में  स्ट्रेचरों की संख्या को कम से कम 10 किया जाना चाहिए जिससे मरीजो को असुविधा न हो

शिवुपरी । 04 जनवरी  सोमबार को नवाचार के तौर पर मेरा अस्पताल न0 1 अभियान के तहत शक्तिशाली महिला संगठन की टीम ने संयोजक रवि गोयल के नेतृत्व में जिला चिकित्सालय शिवपुरी का विस्तार से निरीक्षण किया जिसमें कि सर्वप्रथम प्रभारी सिविल सर्जन डा0 ओ0पी0शर्मा ने संस्था की टीम को मशाल को सौपा और मेरा अस्पताल नं.01   बनाने के लिए आर.एम.ओ डा. राज कुमार ऋषिश्वर के साथ संस्था का निरीक्षण कराया।  शक्तिशाली महिला संगठन की टीम ने सर्वप्रथम ट्रामा सेन्टर का निरीक्षण किया एवं वहा पर स्ट्रेचर की संख्या को कम से कम 10 करने  एव केयर टेकर एवं वार्ड वाय मरीज को सावधानी पूर्वक स्ट्रेचर पर खुद लेकर जाए जिससे कि किसी भी आपातकाल स्थिति में मरीज को तत्काल राहत मिल सकें। संस्था की टीम ने  पोस्ट ओपरेटिव  मेटरनिटी, पोस्ट मेटरनिटी वार्ड , एनआरसी , ओटी, दवा वितरण केन्द्र, कैम्पस, लेबर रुम, रोगी पंजीयन कक्ष, डायलिसिस यूनिट, ब्लड बैंक , आईसीयू एवं टीकाकरण कक्ष का निरीक्षण किया एवं वहा पदस्थ स्टाफ नर्स एवं मरीजों  से चर्चा की एवं अपनी निरीक्षण रिर्पोट में मुख्य रुप से मेटरनिटी वार्ड में स्तनपान को बढ़ावा देने के लिए एक परामर्शदात्री नियुक्त करने , ट्रामा सेन्टर में स्ट्रेचर की संख्या कम से कम 10 करने , एसएनसीयू वार्ड के बाहर वेटिग मे रखी टूटी चेयर को ठीक कराने, ओटी के बाहर खुले कक्ष में लगें में टीबी में एक पेन ड्राईव लगाने जिसमें की परिवार नियोजन एवं कोविड 19 संक्रमण से बचाव के विडियों चलाने, पोषण पुनर्वास केन्द्र में कुपोषण से बचाव  एवं  सही पोषण की जानकारी देने के लिए प्रतिदिन एक एक स्वास्थ विषय पर कुपोषित बच्चो की माताओं को परामर्श देना शुरू होना चाए एवम् सही पोषण  वाले फलैैक्स बैनर डिस्पले होंगे तो बेहतर होगा ,  अस्पताल परिसर मे मरीजो एवं उनके साथ आने वाले अटेन्डर मेरा अस्पताल न01 बनाने में गन्दगी न करें और कचरा केवल डस्टविन मे ही डालकर खुद भी इस मुहिम में सहभागी बने, मेटरनिटी वार्ड में स्तनपान के बारे में जानकरी देने वाले पोस्टर व बैनर लगाने, हर्वल गार्डन मे पोषण वाटिका जिसमे पालक , गोभी, सहजन के पौधे भी लगाए जाए जिसमें कि आयरन एवं कैल्शियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, इसके साथ अस्पताल परिसर में बिना मास्क लगाए घूमने वालों पर सख्त कार्यवाही की जानी चाहिए जिससे कि अन्य लोगो को कोविड सकंरमण से बचाया जा सकें। एक मुख्य बात और टीम ने अपने निरीक्षण के समय प्रभारी सीविल सर्जन एवं आरएमओ डा. राज कुमार ऋषिश्वर को बताई कि  जिला अस्पताल के पूछताछ केन्द्र पर जिला अस्पताल से संबधित सूचना देने के लिए किसी कि डिय्अी लगायी जाए जिससे कि मरीज एवं उनके परिजन ईलाज के लिए भड़कना न पड़े । इस अवसर पर  शक्त्शिाली महिला संगठन के रवि गोयल, नीलम प्रजापति, पूजा शर्मा, रचना लोधी , श्रीमती कमलेश जाटव एव उनकी पूरी टीम , प्रभारी सिविल सर्जन  ओपी शर्मा, आरएमओ डा. राजकुमार ऋषिश्वर , उप प्रबंधक डा0 साकेत सक्सैना के साथ उनका स्टाफ उपस्थित थे।

नया पेज पुराने