अखिल भारतीय नवकार सेवा समिति द्वारा की गई गरीब, निर्धन निराश्रितों की सेवा / Shivpuri News


घर से बने व्यंजनों को वितरण कर गायों को गुड़ और श्वानों को खिलाई रोटियां
शिवपुरी।
जैन धर्म के अनुसार जियो और जीने दो के संदेश को सार्थक करते हुए जैन समाज की अग्रणीय संस्था अखिल भारतीय नवकार सेवा समिति के द्वारा वर्ष 2020 के दिसंबर माह की अंतिम मौन ग्यारस के दिन के दिन गरीब, निर्धन निराश्रितों सहित पशु सेवा का कार्य किया गया। इस दौरान अखिल भारतीय नवकार सेवा समिति अध्यक्ष नीलम नाहटा, सचिव अरुणा सांखला के साथ संसथा की अन्य उपस्थितजनो में सुमन कोठारी शाखा की अन्य बहिनो ने इस सेवा कार्य में भाग लिया और मौन ग्यारस के अवसर पर शहर के बीचों बीच स्थित हनुमान मंदिर माधवचौक व अन्य स्थानों पर फुल्के(रोटियां)घर से बनी हुई रोटियां सब्जी के साथ इन जरूरतमंदों को प्रसाद के रूप में वितरित की गई साथ ही आज के दिन पशु सेवा के रूप में आवारा पशु जिसमें गायों को गुड़ खिलाकर पशु सेवा भी की गई साथ ही श्वानों को भी रोटियां प्रदाय की गई। अखिल भारतीय नवकार सेवा समित शाखा शिवपुरी द्वारा मौन एकादशी के उपलक्ष में यह सेवा गतिविधि की गई जिसमें सभी परिवारों से घर पर बनाकर मँगवाई गई रोटियों का वितरण किया गया और पुरे शिवपुरी शहर में गरीब निर्धन निराश्रितों व गो माता और श्वान पशु को खिलाई गई। इस दौरान कई बहनों ने उपवास एकासना सामयिक पोषध प्रतिक्रमण नवकारसी पोरसी आदि धार्मिक आराधना भी की। कुछ बहनों ने आज मौन वृत भी रखा इस तरह सभी ने इस सेवा गतिविधि में शामिल होकर पूरे दिन को बहुत सुन्दर बनाया और बिताया। कार्यक्रम में सहभागिता प्रदान करने पर संस्था अध्यक्ष नीलम नाहटा द्वारा आभार ज्ञापित किया गया।

नया पेज पुराने