पंचायतों के सहयोग से बनाए जाएगें गोल्डन कार्ड / Shivpuri News


सीएससी एवं व्हीएलई की बैठक सम्पन्न
शिवपुरी।
आयुष्मान भारत योजना अंतर्गत जिले में बनाए जा रहे गोल्डन कार्ड की प्रगति समीक्षा हेतु सीएससी एवं व्हीएलई की बैठक एएनएम ट्रेनिंग सेंटर जिला चिकित्सालय शिवपुरी पर संपन्न हुई जिसमें बीएलई द्वारा पंचायतों से सहयोग प्रदान किए जाने की मांग की गई। जिस पर सीईओ जिला पंचायत द्वारा निर्देश जारी किए जाने का आश्वासन प्रदान किया गया।


सीएमएचओ डॉ.ए.एल.शर्मा ने बताया कि कलेक्टर अक्षय सिंह के निर्देश के तहत प्रत्येक व्हीएलसी 100 कार्ड प्रतिदिन बनाए जाएगें और विकासखंड स्तर पर गोल्डन कार्ड बनाने के लिए खंड चिकित्सा अधिकारी जवाबदेह होंगे। यदि किसी विकासखंड में दिए लक्ष्य अनुसार गोल्डन कार्ड नहीं बनते तो खंड चिकित्सा अधिकारियों पर कार्रवाई की जाएगी।


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.ए.एल.शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले में आयुष्मान भारत योजना अंतर्गत गोल्डन कार्ड बनाने का कार्य चल रहा है। जिसमें ढाई हजार से अधिक हितग्राहियों के गोल्डन कार्ड बनाए जा चुके हैं। इस प्रकार वर्ष 2018 से अब तक दो लाख 37 हजार से अधिक हितग्राहियों के गोल्डन कार्ड बनाए जा चुके हैं।


जिले में गोल्डन कार्ड बनाए जाने की समीक्षा हेतु आयोजित बैठक में जिले के नरवर, शिवपुरी सहित अन्य विकासखंडों से लगभग 60 व्हीएलई ने भाग लिया। जिन्हें अधिक से अधिक हितग्राहियों के गोल्डन कार्ड बनाने की आवश्यकता पर जोर देते हुए विकासखंड बार गोल्डन कार्ड बनाने की समीक्षा की गई। बैठक में सीएससी के जिला प्रबंधक उमेश शर्मा, आयुष्मान भारत योजना के डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर दीपक कुशवाहा सहित बड़ी संख्या में व्हीएलसी और स्वास्थ्य के कर्मचारी उपस्थित थे।

नया पेज पुराने