कार्यकर्ताओं पर हो रही प्रताड़ना से तंग आकर भाजपा नेता प्रीतिम लोधी पहुंचे कलेक्ट्रेट, बोले 2 घंटे में न्याय दो नहीं तो देंगे धरना / Shivpuri News

शिवपुरी। मंगलवार को भाजपा नेता प्रीतम सिंह लोधी भाजपा के अन्य सदस्यों के साथ कलेक्टर कार्यालय पहुंचे और दो घंटे के अंदर तहसीलदार दीपक शुक्ला को रिलीव करने की मांग पर अड़ गए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस विधायक केपी सिंह के दबाव में प्रशासन भाजपा से जुड़े लोगों को झूठे मामलों में फंसा रहा है। जो भाजपा का कार्यकर्ता से उसे टारगेट बनाकर झूठे मुकदमे में फंसाते हैं। उसके ट्रैक्टर में जबरन रेत रख दी जाती है। तहसीलदार किसानों को टॉर्चर करता है। तहसीलदार शुक्ला को ट्रांसफर भी हो चुका है, लेकिन अभी तक उसे रिलीव नहीं किया गया है। इसके बाद वे यहीं कलेक्ट्रेट में धरना देने पर अड़ गए। कलेक्टर की समझाइश के बाद यह लोग वहां से निकले।

ीन को दिए नोटिस

जब कांग्रेस की सरकार थी तब खनियांधाना में कई भाजपा नेताओं पर मुकदमे दर्ज किए गए। प्रीतम लोधी का कहना है, कि एक लड़के प्रजापति की हत्या हो गई थी, लेकिन उसे भी दबाव में आत्महत्या दिखा दिया गया। भाजपा कार्यकर्ता दाऊद अली का घर भी तोड़ा गया था। वहीं अखिलेश जैन, अनुराग अग्निहोत्री, अरविंद अग्निहोत्री के मकान तोड़ने के नोटिस दिए हैं। भाजपा युवा मोर्चा के मंडल अध्यक्ष रहीस यादव और रमाकांत पाठक को भी झूठे केस में फंसाने के आरोप लगाए हैं।

नया पेज पुराने