युवाओं को वायु सेना में आगे आना चाहिए व देश का नाम रोशन करना चाहिए :एयरमैन ज्ञानेश माथुर / Shivpuri News

भारतीय वायु सेना दिवस पर एयर मैन ज्ञानेश माथुर का शाॅल श्रीफल व पौधा देकर किया सम्मानित 

शिवपुरी। स्वयं सेवी संस्था शक्तिशाली महिला संगठन शिवपुरी द्वारा भारतीय वायुसेना के स्थापना दिवस पर वाण गंगा स्थित अपने कार्यालय पर शिवपुरी के एक मात्र रिटायर्ड एयरमैन ज्ञानेश माथुर को श्रीफल-शाॅल एवं पौधा देकर सम्मनित किया एवं उनसे एयरफोर्स के अपने अनुभव बताने का अनुरोध किया। 

एयर मैन ज्ञानेश माथुर ने कहा कि भारतीय वायु सेना का गठन 8 अक्टूबर 1932 को हुआ था। 8 अक्टूबर 1932 को इंडियन एयरफोर्स की स्थापना हुई थी तभी से इस दिन को एयरफोर्स डे मनाया जाता है। इस मौके पर एयरफोर्स अपने खास.खास विमानों और जवानों के करतब का प्रदर्शन करती है। एयरफोर्स डे के मौके पर शानदार परेड और एयर शो का आयोजन होता है। आजादी से पहले एयरफोर्स को रॉयल इंडियन एयर फोर्स कहा जाता था। आजादी के बाद इसमें से रॉयल शब्द को हटाकर सिर्फ इंडियन एयरफोर्स कर दिया गया था। देश में सभी सेनाओं का अपना एक आदर्श वाक्य है। भारतीय वायुसेना का आदर्श वाक्य है. श्नभरू स्पृशं दीप्तमश्। 

भारतीय वायु सेना का आदर्श वाक्य गीता के ग्यारहवें अध्याय से लिया गया है और यह महाभारत के महायुद्ध के दौरान कुरूक्षेत्र की युद्धभूमि में भगवान श्री कृंष्ण द्वारा अर्जुन को दिए गए उपदेश का एक अंश है। इसी आदर्श वाक्य के साथ भारतीय वायु सेना अपने कामों को अंजाम देती है। उन्होने सवसे पहले सभी को वायुसेना दिवस की शुभकामनाए दी एवं बताया कि मैने 1978 से लेकर 1993 तक 15 साल वायुसेना में देश की सेवा की इस दौरान वह अरुणाचल प्रदेश, ग्वालियर व बैगलौर में अपनी सेवाएं दी। 

उन्होंने बताया कि भारतीय वायु सेना विश्व की उच्च कोटि की वायु सेना मानी जाती है। मुझे गर्व है कि मैनेंं वायु सेना में देश की सेवा की और मै युवाओं से निवेदन करना चाहता हूं कि आप भारतीय वायु सेना में आकर देश की सेवा करे इसके लिए आपको अपनी फिजिकल फिटनेश पर बहुत ध्यान देना होगा इसके लिए सुबह जल्दी उठे एवं दौड़ लगाए। 

कार्यक्रम में शक्तिशाली महिला संगठन के संयोजक रवि गोयल में बताया कि आज वायुसेना दिवस के अवसर पर हम एयरमैन ज्ञानेश माथुर जी को सम्मानित करते हुए गर्व महसूस कर रहे है शिवपुरी से इकलौते व्यक्ति जो 1978 में 15 साल एयरफोर्स में सेवा की एवं देश का मान बढ़ाया इसीलिए संस्था द्वारा माथुर का क्रोटन के पौधे, शाॅल श्रीफल एवं उपहार देकर सम्मानित किया एवं उनसे वायु सेना में सेवा के दौरान उनके अनुभव टीम के साथ साझा किए। 

इस दौरान माथुर जी काफी प्रसन्न हुए उन्होने संस्था का एयरफोर्स डे मनाने एवं सम्मान करने पर प्रसन्नता जाहिर की। कार्यक्रम में संस्था के संयोजक रवि गोयल, विकास अग्रवाल, कमलेश कुशवाह एवं हेमन्त उचवारे मौजूद थे।
नया पेज पुराने