खेल डिग्रीधारियों की सरकार को चेतावनी ,खेल शिक्षकों की भर्ती नहीं की तो उपचुनाव का किया जाएगा वहिष्कार | Shivpuri News


शिवपूरी। प्रदेश में खेल शिक्षकों की भर्ती नहीं होने से खेल शिक्षा का डिप्लोमा कर चुके विद्यार्थियों में काफी नाराजगी दिखाई दे रही है और अब खेल एवं शारीरिक शिक्षा संघ आर-पार की लड़ाई के मूड में नजर आ रहा हा। आज बीपीएड, डीपीएड डिप्लोमाधारी संघ के बैनर तले एक मीटिंग का आयोजन किया गया जिसमें राज्य सरकार से मांग की गई की यदि खेल शिक्षकों की भर्ती  शीघ्र नहीं की गई तो आगामी उपचुनाव में सरकार के खिलाफ खेल शिक्षक संघ विरोध करेगा।
आज आयोजित बैठक में मप्र खेल एवं शारिरिक शिक्षा संघ मध्यप्रदेश के अद्यक्ष जितेंद्र यादव ने बताया कि  पिछले 15 वर्षों से खेल शिक्षकों की भर्ती नहीं हुई है नई शिक्षा नीति में भी सरकार ने खेल शिक्षा को अनिवार्य विषय के रूप में शामिल किया है लेकिन मध्यप्रदेश में खेल शिक्षा पर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा उन्होंने बताया कि मध्य प्रदेश में प्रति वर्ष खेल के नाम पर करोड़ों का बजट आता है और स्कूलों में इस बजट का कोई उपयोग नहीं किया जा रहा क्योंकि वहां खेल शिक्षक ही नहीं है हाल ही में मध्यप्रदेश में शिक्षक भर्ती तो निकाली गई लेकिन खेलकूद शिक्षकों की हमेशा की तरह उपेक्षा की गई और सरकार ने इस भर्ती में खेल शिक्षकों के पद तक नहीं बताए एक ओर देश के प्रधानमंत्री नागरिकों से इम्युनिटी बढ़ाने की बात करते हैं वहीं दूसरी और मध्य प्रदेश में खेल शिक्षकों की भर्ती नहीं की जाती जिससे ऐसा साबित होता है कि सरकार स्कूली  बच्चों के स्वास्थ के प्रति बिल्कुल सचेत नहीं है।
डीपीएड, बीपीएड, एमपीएड उत्तीर्ण आवेदकों ने बताया की यदि सरकार उपचुनाव पूर्व हमारी मांग नहीं मानती तो सरकार का विरोध किया जाएगा।
आज आयोजित बैठक में मध्यप्रदेश खेल एवं शारीरिक शिक्षा संघ मध्यप्रदेश के प्रदेश अद्यक्ष जितेंद्र यादव, प्रदेश उपाध्यक्ष संस्कार मिश्रा, वेदप्रकाश प्रदेश सचिव, चिंटू पाराशर पिछोर, विजय यादव, शिवनाथ सिंह वैश, मुनेश रजक, वैभव पांडे चिंकी, रोहित शर्मा, संदीप शर्मा, अनिल पचौरी, संदीप रजक, अभिषेक पाल, उबेर आदिल, गिर्राज शर्मा मीडिया प्रभारी नेपाल सिंह बघेल, विवेक उपाध्याय आदि मौजूद थे।
नया पेज पुराने