तकनीकी शिक्षा मंत्री को पॉलिटेक्निक अतिथि विद्वान संघ ने नियमितीकरण के लिए दिया ज्ञापन | Shivpuri News


शिवपुरी। प्रेस को जारी विज्ञप्ति में सचिव दिनेश कुमार ने बताया कि तकनीकी शिक्षा विभाग मध्यप्रदेश शासन के अंतर्गत शासकीय पॉलिटेक्निक एवं इंजीनियरिंग महाविद्यालय में कार्यरत अतिथि व्याख्याताओं के नियमितीकरण के लिए पॉलिटेक्निक काॅलेज शिवपुरी में निरीक्षण के दौरान ही तकनीकी शिक्षा मंत्री श्रीमंत यशोधरा राजे सिंधिया जी को ज्ञापन दिया।

अध्यक्ष अखलेश सेन ने कहा कि अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद् , नई दिल्ली (AICTE, DELHI) मापदंडों को पूरा करने के बाद भी पॉलिटेक्निक अतिथि विद्वानों के नियमितीकरण एवं फिक्समानदेय की समस्याओं के निराकरण के संबंध में पूर्व सरकार में महामहिम राष्ट्रपति महोदय भारत सरकार के नाम महामहिम राज्यपाल महोदय मध्यप्रदेश शासन को इच्छामृत्यु ज्ञापन से लेकर माननीय मुख्यमंत्री जी एवं सभी विभागीय प्रशासनिक अधिकारियों को ज्ञापन दिए गए लेकिन आज दिनांक तक नियमितीकरण के सम्बन्ध में कोई कार्यवाही नहीं की गई। उपचुनाव से पूर्व पॉलीटेक्निक एवं इंजीनियरिंग अतिथि विद्वानों की मांगों को जल्द से नियमित किया जावे।

इस अवसर पर, जिला संयोजक सतीश शर्मा, संयोजक मनोज शाक्य, अतिथि व्याख्याता स्वाति अग्रवाल, भव्या शुक्ला, लता पचौरी एवं अन्य उपस्थित थे।

पॉलिटेक्निक अतिथि विद्वान संघ की प्रमुख मांगे एवं समस्याएं निम्नानुसार है:-

1. वर्तमान में कार्यरत समस्त पॉलिटेक्निक अतिथि विद्वानों (व्याख्याताओं) को नियमित किया जावे।

2. वर्तमान में संचालित रू 400/- कालखंड व्यवस्था को समाप्त कर एकमुश्त वेतनमान 12 माह दिया जावे।

3. उच्च शिक्षा विभाग के अतिथि विद्वानों के समान ही तकनीकी शिक्षा विभाग के अतिथि विद्वानों को लाभ देते हुए लंबित नियमितीकरण की प्रक्रिया पूर्ण नहीं हो जाती तव तक किसी भी पॉलिटेक्निक अतिथि विद्वान (व्याख्याता) को शासकीय सेवा की अधिकतम उम्र सीमा तक बाहर न किया जावे।

4. संचालनालय तकनीकी शिक्षा विभाग, मध्यप्रदेश क्र/5/यो/एस/2020/491 भोपाल दिनांक 24  जुलाई 2020 के परिपालन में सत्र 2019 - 20 में कार्यरत अतिथि व्याख्याताओं को वर्तमान सत्र 2020-21 में नियुक्ति, राजीव 
गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (RGPV, BHOPAL) द्वारा जारी पाठ्यक्रम के अभाव में, जिन महाविद्यालय में नहीं हुई है, महाविद्यालय प्राचार्यो द्वारा सुनिश्चित की जावे।

5. राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (डिप्लोमा विंग) द्वारा वर्तमान में संचालित जारी एकेडमिक कैलेंडर को, 
हाल ही में कुछ दिन पूर्व जारी  किए गए पाठ्यक्रम के अनुसार संशोधित कर पुनः जारी किया जावे।

6. पॉलिटेक्निक कॉलेज के अतिथि व्याख्याताओं की नियुक्ति 11 माह की होती है, अतः आईटीआई मेहमान प्रवक्ताओं एवं उच्च शिक्षा विभाग के समान ही समस्त शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज में कार्यरत अतिथि व्याख्याताओं को लॉक डाउन अवधि माह मई, जून, जुलाई, अगस्त माह तक भुगतान दिया जावे। साथ ही 23.05.2020 को मंत्रालय तकनीकी शिक्षा विभाग के जारी आदेश अनुसार मार्च माह दिनांक 16 मार्च से 23 मार्च तक जिन महाविद्यालय में नहीं दिया है, लंबित लॉकडाउन मानदेय भुगतान सीघ्र ही दिया जावे 

                                                                                
नया पेज पुराने