घर की थाली बनेगी स्कूल की घंटी, घर-घर होगा विद्यालय 6 जुलाई से | Shivpuri News

शिवपुरी। कोविड.19 के कारण लर्निंगलाॅस को दृष्टिगत रखते हुए नवीन शिक्षा सत्र 2020.21 में 6 जुलाई से कक्षा 1 से 8 के लिए हमारा घर हमारा विद्यालय कार्यक्रम प्रारंभ किया जा रहा है। जिसमें अकादमिक गतिविधियां सुबह 10 बजे से दोपहर 1 बजे तक तथा खेल, कला एवं मनोरंजन शाम 4 बजे से 5 बजे तक, कहानी सुनना एवं कहानी रचना रात्रि 7 बजे से 8 बजे तक मस्ती की पाठशाला, रेडियो बालसभा प्रत्येक शनिवार 4 बजे से 5 बजे तक हमारा घर हमारा विद्यालय कार्यक्रम की अवधारण निर्मित की गई है।
जिला शिक्षा केंद्र के जिला परियोजना समन्वयक ने बताया कि सुरक्षा एवं स्वास्थ्य की दृष्टि से बच्चों को शाला बंद होने के बाद भी प्रतिदिन एवं नियमित अध्ययन हेतु घर में ही शाला जैसा वातावरण निर्मित कर शैक्षिक गतिविधियां संचालित हो सकेगी। बच्चे मोहल्ले, घर पर मौजूद रहकर छात्र-छात्राओं को अध्ययन के लिए उचित अवसर प्रदान किए जाएंगे। जिसमें बच्चों के पास सीखने के स्रोत के रूप में उपलब्ध रेडियों, टीवी, मोबाईल, पाठ्य.पुस्तकें, अभ्यास पुस्तकें एवं समुदाय के सदस्य रहेगे।
शिक्षक द्वारा सत्र 2019-20 में निर्मित दक्षता उन्नयन समूहों के अनुसार बच्चों को विभाजित कर सीखने के अवसर प्रदान किए जाएंगे तथा अंकुर समूह के समस्त एवं तरूण व उमंग समूह के उन बच्चों के पास जिनके पास मोबाईल उपलब्ध नहीं है। प्रतिदिन शिक्षकों द्वारा पांच-पांच बच्चों के पास घर पर व्यक्तिगत रूप से संपर्क कर उन्हें शिक्षा की मुख्य धारा में जोड़ा जावेगा। आवयकतानुसार स्टेशनरी पेंसिल, कॉपी, स्केच पेन, कलर पेंसिल, पुराने पेपर उपलब्ध कराएंगें। पालक एवं विद्यार्थी ऑडियों रिकोर्डिग, वीडियों क्लीप तैयार कर अपने शाला ग्रुप में भेजेगे। जिन्हें शनिवार को होने वाली बाल सभा कार्यक्रम मे टीवी, रेडियों कार्यक्रम के माध्यम से राज्य शिक्षा केंद्र भोपाल द्वारा प्रसारण किया जाएगा। शाला प्रभारी एवं शिक्षक प्रतिदिवस कम से कम पांच पालकों एवं विधार्थियों से मोबाईल से चर्चा एवं सम्पर्क अनिवार्य रूप से करेंगे। बच्चों की समस्याएं पूछेंगे एवं उनका समाधान करंेगे। प्रधानाध्यापक शिक्षकों से चर्चा कर अभियान के क्रियान्वयन की जानकारी फीडबैक के रूप में फोटोग्राफ एवं वीडियों क्लीप बनाकर विद्यालय ग्रुप के माध्यम से देंगे।
नया पेज पुराने