युवक पर सरिए से जानलेेवा हमला, सीसीटीव्ही फुटेज होने के बाद भी 9 महीने बाद भी पुलिस नहीं पहुंच सकी आरोपितों तक, घायल को आंख से दिखना हुआ बंद | Shivpuri News


शिवपुरी। कोतवाली थाना क्षेत्र के तहत आने वाले होटल तरूण रेेसीडेंसी के पास बीतेे 9 महीने पहले एक युवक पर तीन आरोपितोें ने जानलेवा हमला कर दिया था। घटना में युवक बुरी तरह घायल हो गया जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया। चार महीने इलाज के बाद भी युवक की हालत सही नहीं है उसे आंख से दिखना बंद हो गया है। खास बात यह है कि घटना के 9 महीने गुजर गए हैं लेकिन पुलिस की पकड़ से आरोपित अब भी फरार बने हुए हैं। इतना ही नहीं घटना के सीसीटीवी फुटेज होने के बाद भी पुलिस कुछ नहीं कर सकी। 

अब्दुल खान निवासी जवाहर कॉलोनी पुरानी शिवपुरी ने बताया कि आज से करीब 9 माह पले 14 सितंर को रात के समय वह होटल तरूण रेसीडेंसी के बाहर बैठा हुआ था। यहां दो युवक बाइक से उसके पास आए और बिना किसी कारण के विवाद करने लगे। जब अब्दुल ने उन्हें विवाद करने से रोका तो गाली-गलौंज करने लगे और चले गए। मामला अभी शांत ही हुआ था कि कुछ देर बाद दोनों युवक अपने एक और साथी के साथ बाइक पर आए। जहां एक के हाथ में लोहे की रॉड थी। वह बाइक से उतरा और दौड़कर अब्दुल के पास पहुंचा व सरिए से सिर में जानलेवा हमला कर दिया। अब्दुल इससे पहले कुछ समझ पाता तब तक एक और सरिए से बार कर लात-घूसों से मारपीट कर दी। घटना मेें अब्दुल जैेसे-तैसे बचकर भागा तो वह सड़क पर जाकर गिर गया औेर बेेहोश हो गया। इतना ही नहीं आरोेपितों ने अब्दुल के बेहोेश होने के बाद भी मारपीट की। वहीं मौके से गुजर रहे लोगोें ने जब घटनाक्रम को देखा और आरोेपितों को पकड़ने का प्रयास किया तो वह बाइक लेकर भाग गए। 

घायल को आंख से दिखना हुआ बंद, घटना का दर्द अभी भी 
घटना की बाद अब्दुल को अस्पताल में भर्ती करवाया गया। यहां चार महीने तक उसका इलाज चला। इलाज के बाद भी वह स्वस्थ तो हुआ लेकिन घटना का दर्द नहीं भुला सका। अब्दुल ने बताया कि उसे एक आंख से बिलकुल दिखाई देना बंद हो गया है तथा दूसरी आंख से उसे कम दिखाई देता है। जब अब्दुल से पूछा कि आरोेपित कौन थे तो उसने कहा इससे पहले उसने कभी उन्हेें नहीं देखा। पहले आरोपितों ने विवाद किया औेर बाद में अपने साथी के साथ आकर लोहे की रॉड से उसके सिर मेंे बार कर दिया। 

सीसीटीवी फुटेेज के बाद भी पुलिस अभी तक खाली हाथ
मामले को लेकर पुलिस को सीसीटीवी फुटेज भी उपलब्ध करवाए गए। इन सीसीटीवी फुटेज में आरोपित वारदात को अंजाम देते साफ दिख रहे हैं। लेकिन घटना के 9 महीने बाद भी आरोपित फरार बने हुए हैं। पुलिस मामले को लेकर अब तक कोई भी ठोस कार्रवाई नहीं कर पाई है।
नया पेज पुराने