सिरसौद प्रभारी ने बाल विवाह रुकवाया, बिना अनुमति गाड़ी पर कार्यवाही के लिए एसडीम को भेजा पत्र | Sirsod News


शिवपुरी। जिले की पंचायत सूढ़ के ग्राम तिघरा में नाबालिग का बाल विवाह चल रहा था जब इस विवाह की सूचना प्रशासन को मिली तो प्रशासन पुलिस दल सहित बाल विवाह को रुकवाया गया 

पूरा मामला इस प्रकार है कि ग्राम तिघरा पंचायत सूढ़ में आदिवासी बालिका का बाल विवाह पोहरी थाना अंतर्गत के ग्राम झाखनोद में नाबालिग युवक के साथ हो रहा था जब इसकी सूचना पोहरी एसडीएम एवम सीडीपीओ पोहरी की प्राप्त हुई 
सूचना प्राप्त होते है पोहरी प्रशासन पुलिस दल के साथ ग्राम झाखनोद में पहुँचा तब एक आदिवासी नाबालिग युवक की बारात पोहरी के पत्रकार की गाड़ी से गुपचुप तरीके से निकल चुकी थी वही सिरसौद थाना प्रभारी को भी तिघरा में बारात जाने  एवम नाबालिग युवक युवती की शादी की सूचना प्राप्त हो चुकी थी तब सिरसौद थाना प्रभारी मय दल कब साथ ग्राम सूढ़ जा पहुँचे लेकिन इस बात की ख़बर गाड़ी मालिक को लग चुकी थी एवं वह मौके से बारात को छोड़कर वहाँ से फरार हो गया 
जब पोहरी प्रशासन एवम सिरसौद थाना प्रभारी वहाँ दुबारा पहुँचे तो उक्त नाबालिग बारात एवं वाहन मोके पर दुबारा मिले जिनका पंचनामा बनाकर वाहन को जब्त कर सिरसौद थाने में रखवा दिया गया 

वाहन के कांच पर थी जेलों को दवाइया उपलब्ध कराने की अनुमति

जब वाहन की तहकीकात को गयी तो पता चला कि यह वाहन पोहरी की गाड़ी है जिसकी मैडीकल स्टोर भी संचालित होता है जिसके संबद्ध में पोहरी अनुविभागीय अधिकारी को आवेदन किया था जिसके कांच पर पोहरी अनुविभागीय अधिकारी द्वारा दिनांक 7-04-20 से दिनांक 14-4-2020 तक कि जिला जेल एवं उपजेलो को लॉक डाउन के चलते दवाइयां उपजेलो को वितरित करने की अनुमति प्रदान की गई थी जिसकी अनुमति भी भी 14-4-2020 को खत्म हो चुकी थी

कलेक्टर के आदेश की अवहेलना

कोरोना वायरस के प्रकोप कब चलते शख्ती से लोक डाउन के आदेश के पालन की हिदायत दी जा रही है वही ऐसी नाकामियों प्रशासन को मुंह चिढ़ाती नजर आ रही है कलेक्टर के आदेशानुसार किसी भी शादी के लिए अनुमति लेनी जरूरी है और शादी में प्रयुक्त वाहन में भी सिर्फ 2 से 3 व्यक्ति की परमिशन मिली हुई है 
पर यहाँ कलेक्टर के आदेश की भी धज्जियां उड़ती नजर आयी 

पहले बिना अनुमति गुपचुप तरीके से बाल विवाह कराया जा रहा था फिर उस विवाह में प्रयुक्त वाहन में भी काफी लोग बैठे नजर आए ,जिस पर कोई कार्यवाही होती नजर नही आ रही है जबकि लॉक डाउन के चलते आदेशो की अवहेलना के चलते उक्त गाड़ी मालिक एवं ड्राइवर पर नियमानुसार की जानी चाहिए

क्या आम नागरिकों के लिए ही है कानून 

जहाँ तक पता चल सका यह बाल विवाह अपराध प्रशासन की सूझ बूझ से रुकवा दिया गया 
पर इस बाल विवाह के अपराध में शामिल उसके वाहन पर प्रशासन कार्यवाही करने से क्यों कतरा रहा है 
वही जब लड़के के चाचा से बात की गई तो उसने बताया कि लड़का और लड़की दोनों ही नाबालिग है फिर बिना अनुमति की गाड़ी मालिक पर कार्यवाही क्यों नही की

इनका कहना 
हमे बाल विवाह की सूचना प्राप्त हुई सूचना के आधार पर  जब वहां पहुँचे तो जानकारी सही पाई गई उक्त दोनों परिवारों को शपथ पत्र लेकर बाल बिवाह को रुकवा दिया गया
नीरज सिंह गुर्जर 
सीडीपीओ पोहरी

हमे बाल विवाह की सूचना प्राप्त हुई जो ग्राम तिघरा पंचायत सूढ़ में हो रही थी अनुविभागीय अधिकारी की स्लिप लगी गाड़ी मौके से लेकर सिरसौद थाने में रखवा दिया गया था पर वाहन पर विधिवत कार्यवाही के लिए पोहरी एसडीएम को पत्र भेज दिया गया है। 
सुनील सिंह राजपूत 
सिरसौद थाना प्रभारी

मुझे वाहन पकड़ने एवम छोड़ने की जानकारी नही है आपके द्वारा जानकारी दी गयी है में इस मामले को दिखवा लेता हूँ
शिवसिंह भदौरिया 
एसडीओपी शिवपुरी

में आज टीएल मीटिंग में शिवपुरी में उपस्थित थी पोहरी कार्यालय पहुँच कर जानकारी प्राप्त कर   विधिवत कार्यवाही की जाएगी
पल्लवी वैध
पोहरी एसडीएम
नया पेज पुराने