पवित्र सनकुआँ धाम में हुआ दतिया महाराजा राजेन्द्र सिंह जूदेव की भस्मी का विसर्जन, नागरिकों ने दी श्रद्धांजलि

शैलेन्द्र बुन्देला, दतिया
–---------- 
दतिया। दतिया रियासत के स्व. महाराजा राजेन्द्र सिंह जूदेव की अस्थियों का संचयन शनिवार को करन सागर तालाब स्थित राजसी छतरियों पर हुआ। दतिया राज परिवार के राज आचार्य रामदेव चतुर्वेदी, आचार्य कृष्ण कुमार कौशिक और राज पुरोहित अनुराग पुरोहित द्वारा राज परंपरा अनुसार वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ कराया गया। 
 अस्थि संचयन से पचले युवराज अरुणादित्य देव ने विधि विधान से पिंड आदि का पूजन किया। इसके बाद उन्होंने सेंवढ़ा विधायक महाराज घनश्याम सिंह व राज परिवार के नज़दीकी लोगों के साथ अस्थि संचयन किया। संचयन के पश्चात अस्थियां सुरक्षित गौशाला में रखवाई गई हैं जिन्हें लॉकडाउन हटने के बाद इलाहाबाद संगम में विसर्जन के लिए ले जाया जाएगा। 
अस्थि संचयन कार्यक्रम में शिवम प्रताप सिंह, पर्वत सिंह बुन्देला बडोंनकलां, दिमान जयपालसिंह बडौनी, चंद्रभान सिंह बुन्देला, नरेंद्र सिंह बुन्देला बडौनी, भगवान सिंह बुन्देला भरतगढ़,प्रह्लाद सिंह बुन्देला, गोविंद सिंह भियाऊ साहब,राजकुमार सिंह बुन्देला बंका पहाड़ी, ब्रजेन्द्रशाह वापा, शंकर सिंह बुन्देला भस्नेह वाले, पूरन सिंह उपरांय, श्यामपाल सिंह, जंडेल सिंह विल्हारी वाले,केपी सिंह अगोरा, रवि ठाकुर, राहुलदेव सिंह, गिन्नी राजा, सुभाष राजा परमार, संग्राम सिंह परमार, विक्रम बुन्देला बाबा, छोटे ठाकुर, ब्रजेन्द्र सिंह परमार, रविन्द्र सिंह परमार, शैलेन्द्र बुन्देला, जितेंद्र सिंह पठारी, धर्मेंद्र परमार उदग्वां, नन्हे राजा बड़े बहादुर जू का बाग, विक्रम शाह वापा, राघवेंद्र सिंह पठारी, राजेश प्रताप सिंह तूफान, कत्थू राजा, सनमान सिंह बुन्देला, प्रतिपाल सिंह बुन्देला, लोकपाल सिंह बुन्देला, जितेंद्र परमार, बब्बू राजा, इंद्रपाल सिंह बुन्देला,  गिर्राज सिंह, 
बलदेवराज बल्लू, इतरत अली जैदी, केपी यादव, रामू गुर्जर, शाविर घायल, राजीव तिवारी, राकेश कश्यप, सीताराम त्यागी, अलीम खान, मकबूल खान, मीनू जैदी, दशरथ यादव, दिग्विजय सिंह, छोटू झा,आशाराम यादव, मोनू परिहार, जंडेल सिंह , पप्पू जी सरदार आदि शामिल हुए। 
--------------
सनकुआँ में हुआ भस्मी का विसर्जन, सेंवढ़ा में हुई पुष्पांजली-
अस्थि संचयन के बाद भस्मी को विसर्जन के लिए सेंवढ़ा के पवित्र तीर्थ सनकुआँ धाम ले जाया गया। यहां मोटर वोट में सवार होकर सिंध नदी की पवित्र जल धारा में महाराज घनश्याम सिंह ने स्व.महाराजा राजेन्द्र सिंह जूदेव की भस्मी को अंतिम नमन कर विसर्जित किया। इससे पूर्व सेंवढ़ा में नागरिकों ने स्व.महाराजा राजेन्द्र सिंह जूदेव की भस्मी लेकर सनकुआँ जा रहे वाहन पर लगाए गए स्व.महाराजा राजेन्द्र सिंह जूदेव के चित्र पर जगह जगह पुष्पांजली नागरिकों ने अर्पित की तथा नमन कर  श्रद्धांजलि दी।
 सेंवढ़ा में लहार तिराहा पर प्रदीप श्रीवास्तव, देशराज कुशवाह, बेरछा तिराहा पर जयवेन्द्र सिंह परिहार, सर्किट हाउस के सामने सुल्तान खान, सत्येंद्र यादव, बस स्टैंड के पास अरुण शर्मा अनने,धीरज महते, रमा शंकर नगरिया ने नगरिया मार्किट के सामने, पुराना अस्पताल के सामने ऊधम सिंह नागिल, पूर्व पार्षद सुरेन्द्र चौधरी, नरेंद्र गन्धी,नारायण प्रजापति ने किला गेट पर अपरवल साहनी, राजेन्द्र नोनेरिया, मुमताज खान, कमलेश प्रजापति, रहीस खान आदि पुष्पांजलि अर्पित की। 
मालूम हो कि महाराजा राजेन्द्र सिंह जूदेव का बुधवार को ग्वालियर के सिम्स हॉस्पिटल में ह्रदयघात से आकस्मिक निधन हो गया था। गुरूवार को करन सागर तालाब स्थित राजसी छतरी स्थल पर उनका अंतिम संस्कार किया गया था।
नया पेज पुराने