एक वर्ष पूर्ब नगर पालिका परिषद शिवपुरी में गुंजा टेंट घोटाला, लेकिन कार्यवाही के नाम पर चाट गए जनप्रतिनिधि मलाई | Shivpuri News


52 लाख रूपये में टेंट खरीदकर खुद लगा सकती थी नपा: अन्नी शर्मा

शिवपुरी। एक घंटे के विराम के बाद जैसे ही परिषद की बैठक दोबारा से शुरू हुई तो अहम मुद्दों को तो पास कर लिया गया, लेकिन जैसे ही 40 नए कर्मचारी रखने की बात परिषद में आई तो नपा उपाध्यक्ष अनिल शर्मा अन्नी ने परिषद में यह मुद्दा उठा दिया कि नपा में कर्मचारियों की फर्जी भर्ती की जा रही है इसमें अपने पुत्रों और चहेते लोगों को उपकृत किया जा रहा है वहीं अगर देखा जाए तो सामाजिक लोगों को भी नगर पालिका में उपकृत किया जा रहा है। कई जगह तो कर्मचारियों की दो-दो स्थानों पर नियुक्ति की गई है। जबकि पार्षद कई बार शिकायतें कर चुके हैं, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं होती, लेकिन जैसे ही परिषद में रखी टेंट, शामियाना और बिजली की फाइल मंजूरी के लिए आई तो नपा उपाध्यक्ष अनिल शर्मा अन्नी ने कहा कि देखो परिषद में बैठे महानुभावों नगर पालिका में एक वर्ष में 52 लाख के करीब टेंट का भुगतान नगर पालिका द्वारा किया गया है। इतनी राशि में नगर पालिका नगर पालिका के अधीन आने वाले मानस भवन, कम्प्यूनिटी हॉल सहित अन्य जगह पर खुद टेंट खरीदकर, कर्मचारी लगाकर टेंट लगा सकती थी जिससे नपा को एक आय का भी साधन होता। जब इस तरह की बात वहां मौजूद पार्षदों ने सुनी तो उक्त दर को निरस्त कर नई प्रक्रिया द्वारा टेंडर लगाए जाने की बात कही। अब बड़ा सवाल यह है कि किनके इशारों पर नपा द्वारा इतना बड़ा भुगतान एक टेंट व्यवसायी को किया गया। सूत्रों की मानें तो इस भुगतान के पीछे नपा के अधिकारियों सहित कुछ जनप्रतिनिधि और उनके पुत्रों को उक्त टेंट व्यवसायी द्वारा ऐश और केश कराने के ठेके लिए जाते थे जिसकी दम पर इस टेंट व्यवसायी को नगर पालिका द्वारा इतना बड़ा भुगताान किया गया है। यह भी अब एक जांच का विषय है अगर इसमें जांच होती है तो दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा और एक बड़ा भ्रष्टाचार भी खुलकर सामने आएगा।
नया पेज पुराने