Fast Samacharग्वालियर: शराब पीने से हुई 12 लोगों की मौत / Gwalior News

ग्वालियर: शराब पीने से हुई 12 लोगों की मौत / Gwalior News

ग्वालियर। 12.01.21 /  जिले में कथित रूप से जहरीली शराब के सेवन से 12 लोगों की मौत हो गई और आठ लोगों की हालत बिगड़ गई जिनमें से 5 को ग्वालियर और 3 को जिला अस्पताल में रैफर किया गया है। मिली जानकारी के अनुसार सोमवार की रात के दरमियान सुमावली के पहावली एवं बागचीनी के छैरा मानपुर ग्राम के लोगों ने एक किराने की दुकान से अवैध शराब खरीदी जिसको पीकर करीब 2 दर्जन लोगों की हालत खराब हो गई जिन को गांव वालों ने ग्वालिय रैफर किया। 
थाना क्षेत्र की सुमावली विधानसभा के छैजहरीली शराब पीने से 12 लोगों की मौत हो गई 8 लोगों का जिला अस्पताल ग्वालियर ईलाज चल रहा है। पुलिस प्रशासन का कहना है कि यह जांच के बाद पुष्टि हो पाएगी कि शराब जहरीली थी या नहीं । ऐसा माना जा रहा है कि ग्रामीणों ने शराब के साथ कोई दूसरा पदार्थ भी मिलाया होगा यह अटकलें लगाई जा रही है परंतु जांच आने के बाद ही दूध का दूध और पानी का पानी हो पाएगा।  रात करीब 10:00 बजे के बाद इस घटना में ग्रामीणों का कहना है कि एंबुलेंस के लिए कॉल किया था परंतु एंबुलेंस उपलब्ध नहीं हो पाई विलंब से आई इसके कारण गंभीर वीमार लोगों को हॉस्पिटल लाने में देरी हुई अगर एंबुलेंस जल्दी आ जाती तो ज्यादा लोगों को बचाया जा सकता था । सुबह जब पोस्टमार्टम के बाद जब मृत शरीर को घर ले जाने के लिए प्रशासन और ग्रामीणों में झड़प हो गई परंतु आला अधिकारियों के समझाने के बाद ग्रामीण शांत हो गए और शवों को अपने अपने घर ले गए । ग्रामीणों ने एमएस रोड छैरा पर शवों को रखकर जाम लगा दिया । यह जाम करीबन दो घंटा चला जाम लगा होने के कारण राहगीरों को असुविधाएं हुई परंतु मौके पर पहुंचे विधायक अजब सिंह कुशवाह , राकेश मावई एवं  पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया व  जिलाधीश अनुराग वर्मा  ने जब ग्रामीणों को समझाया तब जाकर कहीं देर शाम तक जाम खुला इस मामले में पुलिस ने आधा दर्जन लोगों पर मामला दर्ज किया है । पुलिस का कहना है कि इस घटना में लिप्त किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा। 
 बढ़ सकता है मौत का आंकड़ा…… जिला अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि अभी कुछ कह नहीं सकते हैं कि शराब जहरीली थी या नहीं मौत का आंकड़ा और भी बढ़ सकता है
 गांव में बन रही है कच्ची शराब ……..
वही ग्रामीणों का कहना है कि गांव के कुछ लोग कच्ची शराब बनाने का काम कर रहे हैं गांव के साथ-साथ अन्य ग्रामीण इलाकों में भी कच्ची शराब का कारोबार करती है ग्रामीणों का कहना है कि पुलिस कार्यवाही नहीं कर रही थी मरने वालों में दो सगे भाई एक चाचा व अन्य 10 मानपुर गाँव के हैं ।मरने वालों में पहावली गांव के वंटी पुत्र पंजाब सिंहगुर्जर उम्र 27 , जितेंद्र पुत्र पंजाब गुर्जर उम्र 23 ,रामनिवास पुत्र सिद्धांत सिंह गुर्जर उम्र 35 वर्ष है  जो कि छैरा गांव से करब लेने आये थे । छैरा से इन्होने शराब खरीदी थी । वहीं मानपुर गांव से  रामकुमार  पुत्र  छोटेलाल किरार  उम्र  32 वर्ष , ध्रुवसिंह पुत्र महाराज सिंह  उम्र 52 वर्ष , सरनाम सिंह पुत्र अमर सिंह उम्र 45 वर्ष,  धर्मेंद्र पुत्र रामजीलाल  उम्र 45 वर्ष,  दिलीप शाक्य पुत्र  रामचंद्र उम्र 30 वर्ष ,जितेंद्र जाटव पुत्र पातीराम उम्र 25 वर्ष,  केदार जाटव पुत्र हुकम सिंह उम्र 50 वर्ष,  मुकुट सिंह पुत्र उधौसिंह  उम्र 50 वर्ष,  जीवाराम किरार उम्र 60 वर्ष, अमर सिंह पुत्र वुद्धाराम निवासी बिलैया पुरा  हैं । वहीं गंभीर लोगों में  ब्रजकिशोर किरार पुत्र वीरेंद्र  उम्र 28 वर्ष  मानपुर  जितेंद्र किरार पुत्र  सोनाराम किरार उम्र 23 वर्ष मानपुर दीपेश किरार पुत्र प्रकाश किरार उम्र 26 वर्ष  रामवीर  पुत्र उधौसिंह , बृजकिशोर किरार पुत्र वीरेंद्र उम्र 28 वर्ष ,जितेंद्र किरार पुत्र सोनेराम किरार उम्र 23 वर्ष दीपेश पुत्र प्रकाश किरार उम्र 26 वर्ष इसके अलावा कुछ व्यक्ति ग्वालियर जिला चिकित्सालय में भी भर्ती बताए गए हैं ।
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट कर साधा निशाना ……..
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर सवाल खड़े किए हैं कमलनाथ ने कहा है कि मध्य प्रदेश सरकार शराब माफियाओं का रोकने में असफल रही है ऐसी घटनाएं पहले भी हो चुकी है उज्जैन में 16 जान अवैध शराब ले चुकी है यह घटना दूसरी है शराब माफिया कब तक यूं ही जान लेते रहेंगे उन्होंने सरकार से कहा है कि सरकार बीमार लोगों की मदद करें ।तथा पीड़ित परिवारों की मदद करें। 
 
गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा बोले …..
दोषी कोई भी हो उसे बख्शा नहीं जाएगा कड़ी से कड़ी सजा मिलेगी बीमार लोगों को अच्छी से अच्छी चिकित्सा सुविधा दिलाने का वादा किया । इस मामले को लेकर पुलिस को कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए । 
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा…?…
 मुरैना की  घटना बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण और दुखद घटना है मामले की जांच जारी है लेकिन प्रथम दृष्टया सुपर विजन में लापरवाही करने पर प्रभारी जिला आवकारी अधिकारी जावेद अहमद को सस्पेंड किया है । जांच के बाद जो भी दोषी होगें उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। 
क्षेत्रीय विधायक अजब सिंह कुशवाह ने शासन प्रशासन से मांग की है कि मृतकों के परिजनों को 25-25 लाख रुपए मुआवजा एवं घर के किसी एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाए एवं अवैध शराब का कारोबार करने वाले इन सभी आरोपियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाए ।
सम्बंधित ख़बरें

Follow Us

17,733FansLike
0FollowersFollow
14FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Popular